Search latest news, events, activities, business...

Saturday, February 11, 2017

EDUCATION HUB-Delhi NCR 2017-18 released

क्रिएटिवस वर्ल्ड मीडिया अकैडेमी एवं द्वारका परिचय द्वारा सोशल मीडिया का दैनिक जीवन में प्रभाव विषय पर गोष्ठी आयोजित

(रिपोर्ट: हर्ष कुमार फोटो: अमन पाण्डेय एवं पियूष आर्य)
​11 फरवरी, 2017: क्रिएटिवस वर्ल्ड मीडिया अकैडेमी एवं द्वारका परिचय के संयुक्त प्रयासों के तत्वाधान में द्वारका के दिल्ली इंटरनेशनल स्कूल मे “सोशल मीडिया का दैनिक जीवन में प्रभाव” विषय पर एक गोष्ठी का आयोजन हुआ. 

उक्त कार्यक्रम की शुरुआत स्कूल की प्रधानाचार्य रश्मि मालिक सहित उपस्थित मेहमानो ने विधिवत रूप से दीप प्रज्वल्लित कर की। इसके तुरंत बाद पूर्व सी बी आई के निदेशक सरदार जोगिन्दर सिंह जी की आत्मा शांति हेतु दो मिनट का मौन भी रखा गया. गौरतलब है कि जोगिन्दर सिंह जी कई दिनों से अस्वस्थ थे तथा 3 फरवरी को स्वर्ग सिधार गए. वे द्वारका परिचय के सम्पादकीय मंडल से जुड़े हुए थे तथा नियमित रूप से अपने प्रेरक लेख प्रेषित किया करते थे.



“सोशल मीडिया का दैनिक जीवन में प्रभाव” विषय पर सबसे पहले मेजबान स्कूल की 9वीं कक्षा की छात्रा श्रुति ने अपने विचार प्रकट किए. उसके बाद प्रधानाचार्या रशिम मलिक ने भी सोशल मीडिया के लाभ एवं दुष्परिणाम पर अनेक उदहारण पेश करते हुए अपने विचार रखे. सुश्री मलिक ने अपने अनुभवों के आधार पर इन नवीनतम टेक्नोलॉजी को अपनाते हुए अपने स्कूली बच्चों एवं स्टाफ को स्कूली गतिविधियों से हर पल अवगत रहने के उद्देश्य से व्हाट्स एप्प ग्रुप एवं फेसबुक पेज बना रखे हैं जिसके माध्यम से अभिभावक भी अपने बच्चों एवं स्कूली कार्यक्रम एवं उपलब्धियों से रूबरू बने रहते हैं. उन्होने सोशल मीडिया पर चल रही आसमजिक गतिविधियों पर भी चिंता व्यक्त की।

तद उपरान्त दिल्ली विश्वविधालय के प्रतिशिठित हंसराज कोलेज में कार्यरत एसोसिएट प्रोफेसर डॉ. कावेरी ने भी कई महतवपूर्ण पहुलओं को उजागर किया. इसी कड़ी में हिंदुस्तान की सर्वोच्च न्यूज़ एजेंसी प्रेस ट्रस्ट में कार्यरत वरिष्ठ पत्रकार नेत्रपाल शर्मा ने अपने व्यक्तिगत अनुभवों को साझा किया. तथा उनका तो यहाँ तक मानना था कि फेसबुक एवं व्हाट्स एप्प ने हर व्यक्ति को पत्रकार बना डाला है. आज इन टेक्निकल क्रांति के जरिए आप अपनी बात, खबर, फोटो एवं टैलेंट को अन्य लाखों-करोड़ों लोगों तक पहुचने में सक्षम बना दिया है. लेकिन शर्मा ने सोशल मीडिया का सदुपयोग करने पर बल दिया.
इस अत्यन्त महत्वपूर्ण विषय पर वरिष्ठ पत्रकार एवं द्वारका परिचय मीडिया समूह प्रबंधक संपादक एस.एस.डोगरा ने भी अपने निजी अनुभवों को साझा किया. इसके अलावा उन्होंने सोशल मीडिया को चुनौती के रूप में विडियोपेडिया जैसे महत्वाकांक्षी, रचनात्मकता एवं प्रमाणिकता भरे काल्पनिकता को व्यावहारिक आकार देने के लिए युवा तकनिकी देवेलोपेर्स को खुला आमन्त्रण दिया. जिससे वे इस सोशल मीडिया के क्षेत्र में और अधिक प्रभाशाली एवं क्रन्तिकारी साबित हो सकते हैं. इसके अलावा द्वारका परिचय के ही मुख्य संवाददाता हनी सहगल, प्रमुख समाज सेवी संजय अग्रवाल, राजेंदर काकरिया, अनिल शर्मा, युवा फ़िल्मकार मोहित, अभिषेक चौधरी, युवा पत्रकार हर्ष, प्रियांशु भट्ट, शिक्षिका नैना कपूर सहित स्कूल के हेड बॉय आदित्य ने भी अपने प्रभावशाली विचार प्रकट करते हुए उपस्थित अतिथियों एवं श्रोताओं को प्रभावित किया. कार्यक्रम उभरते हुए पत्रकरो और फिल्म निर्माताओ ने भी युवाओ की सोच रखी ।अंत मै यही बात निकल कर आई की जिस तरह सिक्के के दो पेहलू होते है उसी तरह सोशल मीडिया का उपयोग पूरी तरह उसे इस्तेमाल करने वाले पर करता है की वो उस से क्रांति लाना चाहता है या समय व्यर्थ करना चाहता है।

इसी सेमिनार के दौरान क्रिएटिवस वर्ल्ड मीडिया अकैडेमी एवं द्वारका परिचय के सौजन्य से “एजुकेशन हब दिल्ली एन.सी.आर-2017-18” नामक स्मारिका का विमोचन भी हुआ जिसमे दिल्ली-द्वारका-गुरुग्राम-नॉएडा आदि के प्रमुख शैक्षिक संस्थाओं की महत्वपूर्ण जानकारी एवं मीडिया तथा शिक्षा से प्रेरित लेख आदि प्रकाशित सामग्री को संजोया गया है. कार्यक्रम के अंतिम पड़ाव पर द्वारका परिचय के निदेशक मुकेश सिंह ने भी उक्त विषय पर अपने विचारों की प्रस्तुति के साथ ही उक्त गोष्ठी में सभी उपस्थित अतिथियों एवं छात्र-छात्राओं का आभार प्रकट किया. इसी सेमिनार में उपस्थित प्रमुख वक्ताओं एवं मीडिया छात्र-छात्राओं को सम्मानित भी किया गया. कार्यक्रम का पूरा कार्यभार मीडिया कर्मी, ,द्वारका परिचय के संपादक एवं क्रिएटिवस वर्ल्ड मीडिया अकैडेमी के संस्थापक एस.एस डोगरा ने किया। जबकि पुरे कार्यक्रम का मंच संचालन संध्या भण्डारी ने किया.

View more photo @link--

Thanks for your VISITs

 
How to Configure Numbered Page Navigation After installing, you might want to change these default settings: