Search latest news, events, activities, business...

Tuesday, February 14, 2017

"वैलेंटाइन डे और टीवी सितारे"


फरवरी के खुमार भरे खुशगवार दिनों में इश्क़ के आगाज को सलाम। प्यार एक खूबसूरत अहसास है, जो हो जाये तो फिर "मैं" और 'तुम' का अंतर नहीं रहता, वह एक होकर "हम" बन जाता है। इसलिए तो प्रेमीजन कहते हैं कि " हमने तो बस इश्क़ है किया"।

इस बार हम लाये हैं कुछ टीवी सितारों के दिल की बात...... जानते हैं कि वे वेलेंटाइन डे और प्यार के बारे में क्या सोचते हैं....

युवराज गुप्तामेरे लिये प्यार के लिए किसी स्पेशल दिन का होना जरुरी नहींहै।प्यार तो हर पल,हर लम्हा बांटने के लिए होता है, यह तो ख़ुशी है, जो बांटने से बढ़ती है। आज के समय में वेलेंटाइन डे को प्यार बांटने का दिन घोषित किया गया है, लेकिन आज सच्चा प्यार कौन करता है। सब तो टाइम पास हो गया है।आपके पास पैसा है तो आज मुझे आपसे प्यार है, कल किसी और से मतलब होगा तो उससे प्यार हो जायेगा।आजकल तो यही देखने को मिल रहा है। मेरे लिए प्यार के मायने अलग है, प्यार हम अपने पेरेंट्स से भी करते हैं और दोस्तों से भी, पशु पक्षियों से भी और किसी निर्जीव वस्तु से भी।ये तो एक अहसास है।मैं इस बार वेलेंटाइन डे के दिन वृद्धाश्रम जाकर अपना समय उन अकेले रह रहे लोगों के साथ गुजारना चाहूंगा,जिन्हें साथ और प्यार की जरुरत है।और मेरे लिए इस दिन का सार्थक मायना यही होगा कि मैं दूसरों के चेहरे पर खुशी ला सकूँ।

अजय आर्य सिंहज्यादातर लोग वेलेंटाइन डे का मतलब अपनी गर्लफ्रेंड के साथ समय बिताना या उसे प्रपोज़ करना समझते हैं। लेकिन मेरे लिए इस दिन का मतलब है अपने माँ-बाप, भाई-बहन को या अगर मेरी गर्लफ्रेंड या पत्नी होती तो मैं उन सबको आई लव यू बोलता। आप जिनसे प्यार करते हैं, उनको अपना प्यार और फीलिंग इस दिन दर्शाना। प्यार को जताने के लिए किसी एक दिन का स्पेशल होना जरूरी नहीं है, मेरे लिए 365 दिन ही वेलेंटाइन डे हैं।वेलेंनटाइन डे पर मेरा मैसेज है कि अगर आप इस दिन अपना प्यार दर्शाना चाहते हैं तो अपनी लिस्ट में माँ-बाप,भाई-बहन,अपने चाहनेवालों सभी को शामिल करें। मेरे लिए वेलनटाइन डे का मतलब यही है।

शादाब रहबर खानमेरे लिए प्यार का मतलब है,आप जिनसे प्यार करते हैं या दिल में किसी के लिए कोई फीलिगन्स होती है तो उनकी तरह-तरह की अच्छाइयां हमारे दिलों-दिमाग पर छाई रहती है।मोहब्बत एक हवा की तरह है,जिसको इंसान महसूस तो कर सकता है,मगर छू नहीं सकता।जिसको इंसान खुशबु की तरह अपनी साँसों में बसा तो सकता है,मगर देख नहीं सकता। किसी के अक्स में, किसी के चेहरे में दिखाई देती है वो चीज, बस मोहब्ब्बत की इतनी सी तफ्सील है। मोहब्बत ऐसी चीज है,जो किसी को मिल जाये तो दुनिया की नेमत मिल जाती है।शर्त ये है कि सच्ची मोहब्बत होनी चाहिए।और ऐसी मोहब्बत कि जिनसे आप मोहब्बत करते हैं,उनसे दिन में एकबार भी बात हो जाए तो दिल को सुकून मिल जाये। इसी खूबसुरत अहसास को मनाने का ख़ास दिन है वेलेंटाइन डे।

सतीश बी. जाधवप्यार और वेलेंटाइन डे पर इतना ही बोलूंगा.... जिंदगी तो सभी के लिए एक रंग की किताब है।फर्क बस इतना है कि कोई हर पन्ने को दिल से पढ़ रहा है और कोई दिल रखने के लिए पन्ने पलट रहा है।हर पल में प्यार है,हर लम्हे में ख़ुशी,खो दो तो यादें है,जी लो तो जिंदगी।लोग मिल जाते हैं कहानी बनकर,दिल में बस जाते हैं निशानी बनकर।जिन्हें हम रखते हैं अपनी आँखों में,कम्बख्त क्यों निकल जाते हैं पानी बनकर।जिंदगी से जो लम्हा मिले,उसे चुरा लो,जिंदगी अपने प्यार से सजा लो।जिंदगी तो यूँ ही गुजर जायेगी, बस कभी खुद हसों और कभी यारों को हंसाया करो।अब तो उसकी हर एक अदा मोहब्बत सी लगने लगी है, एक पल की भी जुदाई सदियों सी लगने लगी है।पहले नहीं सोचता था, पर अब सोचने लगा हूँ, जिंदगी के हर लम्हे को तेरी जरुरत सी है।

सौरभ सुमनवेलेंटाइन डे बहुत ही प्यारा सा दिन है, जो प्यार के लिए मनाया जाता है।मैं मानता हूँ कि जहाँ आजकल दुनियां में चारों तरफ अशांति और आतंक का माहौल है,तो कम से कम एक दिन तो ऐसा हो, जब लोग, पूरी दुनिया के लोग एकसाथ मिलकर वेलेंटाइन डे मनाते हैं।हाँ, सबके प्यार करने का इजहार का तरीका अलग अलग हो सकता है।कोई अपनी गर्लफ्रेण्ड़ से तो कोई अपनी वाइफ से। लेकिन मेरा मानना है कि आप इस दिन को अपने माता-पिता,भाई -बहन, और अपने परिवार के साथ भी मना सकते हैं।हैप्पी वेलेंटाइन डे।

प्रस्तुति.....सुश्री दोयल बोस
मीडिया जर्नलिस्ट, नयी दिल्ली

Thanks for your VISITs

 
How to Configure Numbered Page Navigation After installing, you might want to change these default settings: