Search latest news, events, activities, business...

Search & get (home delivered) HOT products @ Heavy discounts

Sunday, April 17, 2016

डा0 राजीव आर0 ठाकुर द्वारा लिखित पुस्तक "MBA मेरी मंजिल" का विमोचन


डा0 राजीव आर0 ठाकुर निदेशक जयपुरिया इस्टीटयूट आफ मैनेजमेन्ट नोएडा की नवीनतम पुस्तक ‘‘MBA मेरी मंजिल’’ पाठकों को समर्पित की गयी। एक सादे समारोह में केन्द्रीय मंत्री (पर्यटन, कल्चर, उड्डयन) डा0 महेश शर्मा द्वारा इस पुस्तक का विमोचन हुआ। उन्होंने पुस्तक के विषय एवं हिन्दी में लिखे जाने के लिए लेखक डा0 ठाकुर की काफी सराहना की। उन्होंने कहा कि विद्यार्थियों एवं शोधकर्ताओं कें लिए यह पुस्तक काफी लाभप्रद होगी। हिन्दी जगत के शीर्षस्थ प्रकाशक, प्रभात प्रकाशन, नई दिल्ली द्वारा इस पुस्तक का प्रकाशन किया गया।

इस पुस्तक को समर्पित करते हुए डा0 ठाकुर ने पुस्तक से संबंधित निम्न बारीकियों को बतायाः-

‘‘मैनेजमेंट संस्थान में लगभग एक दशक से ऊपर जुड़े रहने के कारण बहुत नजदीक से छात्रों एवं उनके अभिभावकों को मैनेजमेंट कैरियर, मैनेजमेंट संस्थान, उनमें नामांकन, मैनेंजमेंट कोर्स की बारीकीयाँ एवं कोर्स को सफलता पूर्वक पूरा कर प्लेसमेंट पाने तक की उनकी कठिनाइयों को देखने का अवसर मिला है। इस पुस्तक में प्रयास रहा है कि इन सभी बिन्दुओं पर छात्रों एवं अभिभावकों को सही सूचना एवं सही मार्गदर्शन मिले। इस पुस्तक में मूलतः निम्न बिन्दुओं पर चर्चा की गई है जिनका महत्व पाठकों के लिए काफी अधिक होगाः-

1. वर्तमान की सामाजिक, आर्थिक व्यवस्था एवं वातावरण में एक परिवार में आवश्यक सोच। शिक्षा एवं कौशल की महती आवश्यकता पर बल।
2. दसवीं से बारहवीं तक के विभिन्न अवसर और उन अवसरों में अपने लिए एक इच्छित मार्ग के चयन के लिए उचित मार्ग दर्शन।
3. मैनेजमेंट कैरियर का बढ़ता प्रभाव और इसकी सफलता में एम0बी0ए0 कोर्स के योगदान का विवरण।
4. देश में मैनेजमेंट कोर्स कीे व्यवस्था एवं संभावनाओं से एक परिचय
5. मैनेजमेंट संस्थान में नामांकन की प्रक्रिया और नामांकन हेतू आवश्यक तैयारी
;6. मैनेजमेंट संस्थान का चुनाव कैसे किया जाए, उनसे सबंधित गाइड लाइन्स
7. मैनेजमेंट कोर्स से परिचय तथा तमाम बातों का विवरण जिससे छात्र कोर्स को सफलता पूर्वक पूरी कर सकें।
8. समर इन्टर्नशिप का महत्वः और उसकी प्रक्रिया।
9. कोर्स के दौरान एक होलिस्टिक व्यक्तित्व का निर्माण कैसे किया जाए जिससे इन्डस्ट्री में साख स्थापित हो सके।
10. प्लेसमेन्ट प्रक्रिया की जानकारी एवं उसमें सफलता के लिए आवश्यक तैयारी।

इन महत्वपूर्ण बिन्दुओं के अलावा अन्त में कुछ उपयोगी जानकारियों को भी शामिल किया गया है जिससे पाठकों को सहज लाभ मिल सकें और उनका रूझान और अधिक जानकारी के प्रति हो’’।

छात्रों एवं अभिभावकों के अलावा यह पुस्तक कोचिंग इंस्टिट्यूट, अन्डर ग्रेजुएट कालेजों, प्लस टू स्कूलों मे काफी उपयोगी सिद्ध होगी। खासकर उन छोटे शहरों में, जहाँ अभी भी सूचना एवं अनुभव का खासा अभाव है। छात्रों में भी वैसे छात्र जो अभी मैनेजमेंट को कैरियर बनाना चाहते है और वैसे छात्र जो अभी 12वीं या अन्डर ग्रेजुएशन में है और उन्हें अपना मार्ग चुनना है, दोनों के लिए ही यह पुस्तक लाभप्रद होगा।

हार्ड बाउंड एवं पेपर बैक संस्करणों की कीमत क्रमशः रू0 250/- एवं रू0 125/- रखी गई है और देश के सभी प्रमुख पुस्तक केन्द्रों पर उपलब्ध है।

लेखक डा0 राजीव आर0 ठाकुर का संक्षिप्त परिचयः-
वर्तमान में डा0 राजीव आर0 ठाकुर जयपुरिया इंस्टिट्यूट आॅफ मैनेजमेंट, नोएडा के निदेशक हैं। इससे पूर्व जयपुरिया इंस्टिट्यूट आॅफ मैनेजमेंट, जयपुर के निदेशक पद पर रहते हुए, दो वर्ष की सीमित अवधि में जयपुर कैम्पस के रूपांतरण मे सशक्त भूमिका निभाई। जयपुरिया जयपुर से पहले, IMT गाजियाबाद में प्रोफेसर तथा AKGIM के निदेशक रह चुके है। शिक्षण क्षेत्र में आने से पहले डा0 ठाकुर ने मीडिया जगत में 10 वर्षो से अधिक कार्य किया तथा भारत के अग्रणी मीडिया ग्रुप, ‘द टाइम्स आफ इंडिया’ में वरिष्ठ पदों पर आसीन रहे। इनके शिक्षण तथा रिसर्च का मुख्य विषय सामरिक प्रबंधन (Strategic Management) तथा अंतराष्ट्रीय व्यापार (International Business) रहा है। अपने शैक्षणिक कार्यकाल में इन्होने भारत के शीर्षस्थ संस्थानों तथा राष्ट्रीय एवं अमरीका, मिडिल ईस्ट, यूरोप तथा आस्ट्रेलिया स्थित अंतर्राष्ट्रीय विश्वविद्यालयों में मैनेजमेंट में स्नातकोत्तर एवं कार्यकारी पाठ्यक्रमों में शिक्षा प्रदान की है। विभिन्न राष्ट्रीय एवम अंतर्राष्ट्रीय पत्रिकाओं मे इनके रिसर्च पेपर प्रकाशित हुऐ हैं तथा अनेक अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलनों में ये अपने रिसर्च पेपर प्रस्तुत कर चुके है। डा0 ठाकुर ने विभिन्न विषयो पर निरंतर अंर्तराष्ट्रीय सम्मेलनों तथा वरिष्ठ एवं मध्यम स्तरीय प्रबंधन विकास कार्यक्रमों (MDP) का आयोजन कराने मे सक्रीय भूमिका निभाई है। IMT दूबई की स्थापना से लेकर उसे UAE से मानकता (Accreditation) दिलाने में इनकी सक्रीय भूमिका रही। डा0 ठाकुर ने अमेरिका, यूरोप, आस्ट्रेलिया तथा मिडिल ईस्ट की यात्राऐं करते हुए अंतर्राष्ट्रीय ख्याति प्राप्त की हैं। इन्होने अर्थशास्त्र विषय में अपनी पी0एच0डी0 एवं स्नातकोत्तर डिग्री हासिल की है तथा आई0 आई0 टी0 दिल्ली से एम0बी0ए0 की परीक्षा उत्तीर्ण की है।

Thanks for your VISITs

 
How to Configure Numbered Page Navigation After installing, you might want to change these default settings: