Search latest news, events, activities, business...

Saturday, April 30, 2016

Inter School Volleyball Competition held at Shiksha Bharati Public School


Youth Unity Sports Club conducted Inter School Volleyball Competition at Shiksha Bharati Public School, Sec-7, Dwarka. It was a matter of great pride and pleasure for Shiksha Bharati School to host 14 schools of Delhi. The competitions were lasted for two days.

On the occasion of opening ceremony, the chief guest Mr. Sumit Kwatra-Inspector, BSF and International Judo Player was welcomed by respected Principal Ms Mamta Gupta. Guests of honour Mr. Rakesh Kumar- President of Indian Youth Power, Sh. Malyawar and Sh. Sunil Lakra were also given a floral welcome. The Chief Guest Ms. Roshni Gulati- SPE, Zone-XXI, Najafgarh and guest of honour Ms. Deepika Madam-Director, Kanishka Institute of higher studies, were welcomed by Principal on the occasion of closing ceremony.

Shiksha Bharati Public School Boys Volleyball team won the I position whereas II & III position were secured by M.D.H and Holy Convent School respectively. In Girls Volleyball team I position was won by UVAS Club and II & III positions were achieved by St. Peter Convent and M.D.H Schools respectively.



Cultural performance Sufi Folk Dance performed by Sr. Wing Students enthralled the audience.  Prizes were given away to the winning teams and special mementos were given to the Chief Guest, Guest of honour, Principal Madam, President of Indian Youth Power-Mr. Rakesh Kumar, NFPET-Mr. Sunil Lakra, Gen. Secy. NFPET Mr. Suresh Kumar, Sports In-Charge and PET Mr. Rakesh Kumar, Ms. Menka-PET, Mr.Narendra Chauhan-PET, Mr. Shashi Kumar-Volleyball Coach and Mr. Sanjeev and Mr. Sachin Kumar.

Actor Govinda inaugurated Sandip Soparrkar's "3rd India Dance Week"


On special occasion of International dance day, Sandip Soparrkar in association with Phoenix Market city Kurla, presents "India Dance week" season 3..

Bollywood's dancing king- Govinda was the esteemed chief guest who lit the auspicious inaugural lamp of "India Dance Week" on 29th April. He was also seen shaking a legs on his super hit song "Aa Aa Eee Oo Ooo Mera Dil Na Todo" from the film Raja Babu. When he took to the stage and started to dance the crowed cheered and demanded to see his iconic moves, which he obliged to everyone's delight.

The Event kick started with the Ganesh Vandana performed by Uma Rele's Nalanda Nritya Kala Mahavidyala student. Followed by mentally challenged people of NGO Advitya dancing along with actress Vandana Sajnani and Smilie Suri who spoke about dance being for everyone be it normal, special or differently abled.

Apart from classical and folk dances by Nalanda the show also had Villoo Bharucha's School of Ballet performance Russian and French Style Ballet and Brian Fernandes dance Academy showcasing modern dances.

It was a visual treat to see Ryoko De's school of international folk dances present some rare dances of the Eastern World like; Nichibu from Japan, long sleeve dance from China and Cham dance from Tibet.

This festival is the only dance festival in the country that has Indian classical, Indian folk, international folk, ballet, bollywood, ballroom, Latin dances and many other dance forms performed by professionals from all over India.

"India Dance Week" does not believe in dividing the dancers as per the forms they practice, instead joins their hearts as dance lovers and provides them a platform to showcase their love for the art of dance. The 3rd India Dance Week is not only promoting dance, but also following their motto "Dance for a Cause"

Tantra The Moksh on 8th May 2016


Friday, April 29, 2016

Baba Ramdev Turns actor....YOG YATRA - a biopic film releases on Sony TV 1st May, Directed by Kaveta Chaudhary


There is a buzz around the soon to release ' YOG YATRA ', a biopic on the life of Yoga Guru Baba Ramdev and his close friend Acharya Balkrishna. In this film you will find Baba Ramdev donning the actor's garb shooting, rehearsals, riding the bike enacting his life journey of before being acknowledged as the Yoga Guru and becoming a global icon.

The promo has already garnered great excitement and curiosity among the business and film industry for the nature of its biopic. It is a 90-minutes film, but very meticulously showcases the life and evolution of Baba Ramdev and how he aspires to transform the life of people with yoga and ayurveda. 

The film is written and directed by Kaveta Chaudhry and will be aired on Sony TV in a special screening on the 1st of May. Promo link : https://www.youtube.com/watch?v=HgsE0cMYTcI


Kaveta spent months researching for the film and even while shooting, it was a revelation and rewriting of the scripts to bring to life the real episodes which created the legends.

"Yog Yatra came to me with Acharya Balkrishnaji's call for making a film on their institution, its foray of activities. I convinced them to expand the scope to including the vision behind Patanjali while including their activities. Then began my research in knowing Baba Ramdev and Acharya Balkrishna and revisiting their junctions in life..." saysKaveta Chaudhry. " The film showcases through the example of Baba Ramdev and Acharya Balkrishna that how by carving their own path & choosing to be who they are, both achieved global success! The film also attempts to free us from the prevalent education system from marks orientation to an all round development that gives the strength to deal with different shades of life - with ease, joy and glory !"

Acharya Balkrishna shares " We had seen Kaveta's work during the making of a public service spot. Also her past work profile resonates sensitivity combined with creative intuition which is very important in making a film of such nature. When we look back, her passion and flair for story telling makes us glad she was a part of our journey forward."

Watch the journey of a Yogi who reached Zenith. Watch some unknown facets of the lives of Swami ji and Acharya ji. A real documentary film on SONY at 7:30 am and 9am on May 1st, 2016.

A brief on Kaveta Chaudhry : 

Kaveta Chaudhry gained popularity in the 90s for her TV series Udaan on Doordarshan. Actor-Director-Producer of this series, Kaveta Chaudhry essays the role of Kalyani Singh who struggles through her journey to be an IPS Officer. The series was widely appreciated by the public, media and film fraternity as it was a first of its kind Indian tv series on woman empowerment. https://www.youtube.com/watch?v=uTvlSglmGw8

Much before this, her role of the protagonist Lalitaji in the Surf advertisement set her apart as a thinking and independent woman. To date she remains etched in the memories of the public as a figure to reckon with.

Cheif Editor of “MAAY MARATHI” channel Mr. Nandkumar expired


Chief Editor of “MAAY MARATHI” News & Entertainment TV Channel Mr. Nandkumar Vengurlekar expired on 27th April 2016, Wednesday at his residence in Charkop, Malad. He has been active since last 25 years in various newspapers like 'Mumbai Sandhya', 'Navakal', 'Mumbai Lakshdeep', 'Mahanagari Vartahar' and 'Sandhyakal', currently he was Chief Editor for newly launched Marathi channel "MAAY MARATHI", he has left behind his wife, daughter. parents and brothers. Entire family of channel Mr. Manoj Kore, Mr. Shagun, Mr. Abhas Patil and others paid there tribute to his noble soul.

​जाइवी मोबाइल्स के नये प्रोडक्ट लांच

प्रेमबाबू शर्मा

जाइवी मोबाइल्स मैजिकाॅन इम्पेक्स प्रा. लि. के मोबाइल डिविजन ने भारत में फीचर फोन का नया प्रोडक्ट पोर्टफोलियो लांच किया है। इसमें शुरुआती कीमत 699रु. से लेकर 1199रु. के फोन हैं। शानदार स्टाइल के साथ आधुनिक तकनीक से निर्मित कम कीमत में बेहतरीन फोन है।

नई रेंज़ की लांच पर जाइवी मोबाइल्स के सीईओ पंकज आनंद ने कहा, ‘‘हमारा प्रयास रहा है कि हम ग्राहकों को कम कीमत में अच्छा फोन दे और आने वाले सात नए फोन पेश करने की खुशी है। ये उनकी चाहत और जरूरत पूरा करेंगे जो बाजार में उपलब्ध महंगे फोन नहीं खरीद सकते। हमारे फोन 699रु., 799रु., 849रु., 949रु., 1099रु. और 1199रु. कीमत में उपलब्ध है। हमारे फोन और चार्जर भारतीय मानक ब्यूरो (आईएसआई) से मान्यता प्राप्त हैं। ये ‘मेक इन इंडिया’ प्रोडक्ट हैं जो दिल्ली में हाल में स्थापित हमारे संयंत्र में बनेंगे।’’

जाइवी के हर फीचर फोन के लिए ‘दोगुनी बचत दोगुना फायदा’ स्कीम के तहत 9 वाट का एलईडी बल्ब फ्री है। यह स्कीम भी नरेंद्र मोदी की स्कीम ‘प्रकाश पथ’ - ‘उजाला की ओर’ के अनुुरूप है जिसका मकसद आम आदमी की बिजली और पैसे की बचत करना है।

स्कीम पर श्री पंकज आनंद, सीईओ, जाइवी मोबाइल्स ने कहा, ‘‘हमारी यह पहल भी देश में जन-जन को ऊर्जा सक्षमता का संदेश देने के सरकारी प्रयास के अनुरूप है। हम प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के इस विचार से पूर्ण सहमत हैं कि बिजली संकट दूर करने का सस्ता उपाय बिजली बचाना है न कि बिजली पैदा करना। हमारी स्कीम जन-जन में बिजली बचत की चेतना लाएगी। हम भारत में फीचर फोन की पूरी रेंज़ पर एलईडी बल्ब फ्री देंगे।’’

कम्पनी देश में फीचर फोन बाजार की असीम संभावना का लाभ लेना चाहती है। यह आने वाले समय में इसके सारे डिवाइस भारत मंे बनाएगी। जाइवी मोबाइल्स भारत में ही बैट्री, चार्जर और हैण्ड्सफ्री बनाएगी जिससे ड्यूटी की बचत होगी जो वर्तमान में 29.5 प्रतिशत की दर से लागू है। बचत का लाभ ग्राहकों को दिया जाएगा।’’

इस अवसर पर सीईओ श्री पंकज आनंद के साथ श्री गुरदीप सिंह, निदेशक, श्री एन के मोंगा, निदेशक, सुश्री आंचल अरोड़ा - प्रोडक्ट मैनेजर और श्री हर्ष वर्धन- हेड मार्केटिंग भी मौजूद थे।

Happy Birthday- Rajesh Dogra


One Drop Cinema's short film competition


World Dance Day celebration at Lok Kala Manch



Thursday, April 28, 2016

Dwarka Baat Cheet on "What is Literature?" by Dr Gopal Pradhan on Sunday 1st May


Whom do you like to be your Councillors (Matiala Ward no 136)


Share your views / thoughts about your popular leader @link.

फैशन के क्षेत्र में अभी और जागरूक होने की जरूरत- रेणु भार्गव


प्रेमबाबू शर्मा

जस्ट डिजाइन संस्थान के 20 छात्र राजस्थान की राजधानी जयपुर के द ललित होटल में 30 अप्रैल (6.30 बजे) को होने जा रहे इंडिया इंटरनेशनल स्टाइल वीक में भाग लेंगे। इस दौरान देश-विदेश की 36 मॉडल्स रैंप पर अपना जलबा बिखेगी। बॉलीवुड की हस्तियां के अलावा चार मशहूर डिजाइनर भी भाग लेंगे। संस्थान की कार्यकारी निदेशक रेनू भार्गव ने यहां एक संवाददाता सम्मेलन में यह जानकारी दी। जस्ट डिजाइनल संस्थान के सेक्टर-62 स्थित कार्यालय में आयोजित पत्रकार सम्मेलन में डिजाइन क्षेत्र से जुडी कई हस्तियां में अखिलेश अग्रवाल, लोकेश शर्मा, दीपाली चुंग, गजल मिश्रा और जेडी महेश्वरी मौजूद थे। इस दौरान संस्थान के बच्चों द्वारा डिजाइन किये गये कपड़े मॉडल द्वारा प्रदर्शित किये गये। रेनु भार्गव ने कहा देश में लोग बाजार में उपलब्ध डिजाइन की तरफ जाने लगे हैं। फिर भी लोगों का अभी और जागरूक होने की जरूरत है। हम फैशन के माध्यम से प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के मेक इन इंडिया कार्यक्रम को आगे ले जाना चाहते है। हम मेक इंन इंडिया पर ज्यादा फोकस कर रहे है। इससे निश्चित दौर पर लोगों को रोजगार मिलेगा। इंडिया इंटरनेशनल स्टाइल वीक में हम कुछ अलग करेगें। योग, वस्तु, मिर्च-मसाले पर कुछ कलेक्शन तैयार किये हैं। इस बार हमारी थीम प्रकृति और आकाश से जुड़े रंग से जुड़े कलेक्शन की है। अब तो फैशन के क्षेत्र में पुरूष भी सफल हो रहे हैं। ड्रेस डिजाइन की आज हर जगह जरूरत है। यह अच्छी बात है कि अब देश के छोटे-छोटे शहरों से इस क्षेत्र से जुड़ी प्रतिभायें आने लगी है। जयपुर में हाथ के कलाकारों की बड़ी जामात रहती है इसलिए बच्चों को उनसे बहुत कुछ सीखने को मिलेगा। इस दौरान समर एडीसन का लॉच हुआ। जिसके निदेशक अखिलेश अग्रवाल ने कहा देश के मशहूर डिजाइनर जिन्होंने विदेशों में खूब नाम कमाया है। वे इंडिया इंटरनेशनल वीक में हिस्सा लेगें। युवा डिजाइनरों को काफी कुछ दिखने और सीखने को मिलेगा। हम जल्दी ही विटर एडीसन लॉंच करेंगें। अगले सीजन में इंटरनेशनल फैशन डिजाइनर दो दिवसीय फैशन वीक का आयोजन करेगा। इस दौरान कई शानदार कलेक्शनों का प्रदर्शन किया जाएगा। आज डिजाइनर किसी पहचान के मोहताज नहीं है। हैदराबाद फैशन वीक में कई नये डिजाइनर सामने आये।

Wednesday, April 27, 2016

A grand showcasing of the colours of Glamour and Fashion at India International Style Week!

Prembabu Sharma

30th April, India International Style Week will host its summer edition at The Lalit, Jaipur. Bollywood celebrities will be the show stoppers and 36 models will grace the ramp for 4 celebrated designers.

Jaipur, 7 April| For all the Fashion lovers, here is IISW bringing for all a combination of fashion and style that will be a highlight point and a talk of the town soon. The city shall witness the best of fashion world with the 4 renowned fashion designers showcasing their exuberant collections at The Lalit Jaipur.

India International Style Week by Ekang Events will witness the ramp with the gracing of 36 National and International Models for 4 well-known fashion designers with celebrities putting the ramp on fire.

On Saturday, the second poster of the style week will launched by Akhilesh Agrawal and Lokesh Sharma, Directors of Ekang Events, Deepali Chugh, Director of Sizzlin Scizzors and the fashion designer Gazal Mishra, Renu Bhargav, Director of Just Design Institute and JD Maheswari, Director of Shakun Group. Also, the second look of the collection will be showcased by the models at the event at Just Design Institute, B-23A, Sector 62, Noida-201301.

The grand opening at the India International Style Week on 30th April at 6:30 pm will be graced by the very well known fashion designer Gazal Mishra, says the director Akhilesh Agrawal. The designer needs no introduction as she has showcased her creativity at the Hyderabad fashion Week and the Mercedes Benz Fashion Week, Doha. The theme of Gazal Mishra Couture for the event is ‘Tamanna’ that will showcase the dreams and desires of the youth through the fashionable garments. Giving a wider look to her garments she will present the ready to wear apparels that will summarize her showcase as ‘Beyond the Boundaries’.

The IISW event will witness the showcase of 4 celebrated fashion designers. From Jaipur we have Gazal Mishra and apart from her we have Shivina Agnani, Versha Sethi andAkash Chaudhary from the city, says Lokesh Sharma, Director, IISW. The grand finale of the style week will be graced by the most celebrated and award winning fashion designer from Mumbai, Ken Ferns. Ken Ferns has showcased his collection not only in the 5 seasons of the Lakme Fashion Week but has also been the official fashion designer for the very famous TV shows ‘Jhalak Dikhla Ja’, ‘Nach Baliye’, ‘Bigg Boss’, etc. Having designed for the celebrities and the famous TV shows Ken Ferns will showcase the Summer Resort Wear Collection at India International Style Week.

During the event, Varsha Sethi will display her Summer Line Collection based on the ‘Spring Summer Nostalgia’ theme which will showcase the Indo- Western collection for summers. Shivina Agnani will showcase her collection based on the theme ‘Drama Queen’ that will include the apparels to be worn at the page 3 parties. Make up and Styling of the models will be taken care of under the direction of Deepali Chugh, Director Sizzlin Scizzors.

Just Design institute will be the official Institute partner for the event. Just Design is a premier public Institution imparting knowledge in the field of interior, fashion and make-up artistry. It is recognized from Sector Skill Council for design, fashion, interiors, make-up artistry and business. They’re known for their rigorous, unique, and adaptable academic programming, experiential learning opportunities, academic and industry partnerships, and commitment to research, innovation, and entrepreneurship.

A pre launch party will be organised in the evening at The Bunk House, Connaught Place, New Delhi.

Launch of the Summer Edition
Director Akhilesh Sharma quoted ‘The most celebrated fashion designers who have made their name not only in the country but overseas will be the part of this event’. With the launch of the Summer Edition here is the launch of India International Style Week and shall host the next season very soon with the Winter Edition. The next season of IISW will be a Style Week for 2-3 days and the International Fashion Designers will also showcase their exclusive collections.

प्रदीप सरदाना को ‘गौरव शिरोमणि सम्मान’

वरिष्ठ पत्रकार, ‘पुनर्वास’ साप्ताहिक के संपादक और जाने माने फिल्म समीक्षक श्री प्रदीप सरदाना को प्रतिष्ठित ‘गौरव शिरोमणि सम्मान’ से सम्मानित किया गया. पत्रकारिता एवं सामजिक क्षेत्र में किये गए उत्कृष्ट कार्य और सराहनीय योगदान के लिए श्री सरदाना को यह पुरस्कार नयी दिल्ली के एनडीएमसी ऑडिटोरियम में आयोजित दक्षिण एशियाई देशों के तीसरे सार्क जादू उत्सव में सुप्रसिद्द जादूगर सम्राट शंकर,पी सी सरकार, और अशोक खरबंदा द्वारा प्रदान किया गया.आईबीएम संस्था और जादू कला ट्रस्ट द्वारा आयोजित इस सार्क उत्सव में देश विदेश के 250 से अधिक जादूगर और कलाकार सम्मिलित हुए. 

पिछले लगभग 40 बरसों से पत्रकारिता में सक्रिय श्री प्रदीप सरदाना ने अपने पत्रकारिता करियर की शुरुआत मात्र 13 बरस की आयु में ही कर दी थी. वह देश के सबसे कम उम्र के संपादक भी हैं. श्री सरदाना ने अपने समाचार पत्र ‘पुनर्वास’ का जब प्रथम प्रकाशन आरम्भ किया तब वह मात्र 17 बरस के थे.उसके बाद उन्होंने पीछे मुड़कर नहीं देखा और वह पत्रकार के रूप में देश के लगभग तमाम प्रतिष्ठित समाचार पत्र पत्रिकाओं से जुड़ते चले गए.जिनमें नवभारत टाइम्स,हिन्दुस्तान,दैनिक जागरण,अमर उजाला,जनसत्ता,लोकमत समाचार,दैनिक ट्रिब्यून,हरि भूमि,राजस्थान पत्रिका,आज और सांध्य टाइम्स सहित इंडिया टुडे,साप्ताहिक हिन्दुस्तान और धर्मयुग जैसी पत्रिकाएं शामिल हैं. देश में टीवी पर पत्रकारिता की शुरुआत भी श्री सरदाना ने की. प्रदीप सरदाना प्रिंट मीडिया के साथ इलेक्ट्रॉनिक मीडिया से भी 1980 के दशक से जुड़े हैं. वह आज के लगभग सभी प्रमुख टीवी चैनल्स के साथ एक्सपर्ट पेनेलिस्ट व् फिल्म टीवी विशेषज्ञ के रूप में तो जुड़े ही हैं साथ ही विभिन्न चैनल्स के लिए डॉक्यूमेंट्री फिल्म निर्माण- निर्देशन के कार्य में भी वह सक्रिय हैं. लेखको,पत्रकारों और कलाकारों की संस्था ‘आधारशिला’ के अध्यक्ष के रूप में भी श्री सरदाना बहुत सी नयी प्रतिभाओं को सामने लाने के साथ कला,समाज और साहित्य की दुनिया में अपना यथा संभव योगदान देते रहते हैं.

मीडिया में पुरस्कारों का धंधा आज मुकाम पर ...


हम जमीन से जुड़कर पत्रकारिता करते हुए आज भी संघर्षशील हैं। कुछ पत्रकारों ने अपनी मेहनत से अच्छा मुकाम बनाया यह बात बहुत अच्छी है किन्तु विगत कई वर्षों से पत्रकारों की बाढ़ आ गयी है वह पत्रकार हैं जिन्होंने कभी देश के या समाज के हित में एक भी मौलिक शब्द नहीं लिखा है। बेरोज़गारी से तंग आकर या नया बिजनिस मान कर ही सही नया अध्याय तो देश की रीढ़ समझी जाने वाली मीडिया नामक संस्था ही दिया है। आज पत्रकारिता इस स्तर तक गिर चुकी है कि दलाल बन चुके पत्रकारों को पैसे लेकर पुरस्कार देकर प्रमाणित करने में कुछ मीडिया के ही लोग संस्था बना कर सक्रीय हो चुके हैं। आज कुछ पत्रकारों ने देश और समाज के लिए की जाने वाली पत्रकारिता को धंधा बना लिया है। अब धंधा है तो उसे ज़माने के लिए सारे प्रपंच और साम,दाम,दंड,भेद के नियम अपनाने होंगे। इसी कड़ी में आज आपको जगह जगह अपने सम्मान और पुरुस्कारों को ग्रेडिंग देते हुए दावा किया जा रहा है की "असली मीडिया में काम को हम प्रमाणित करके आपके जीवन और पत्रकारिता का स्तर बढ़ा सकते हैं।" कई सम्मान पुरुस्कार ऐसे हैं जो केवल पैसा लेकर दिए जा रहे हैं और पैसा देकर लेने वाला व्यक्ति चाहे पत्रकारिता के बारे में कुछ नहीं जनता हो,उसने कभी अपनी मौलिक लेख,सम्पादकीय अथवा समाचार कभी ना लिखा हो जिसके लिखने और राष्ट्र का निर्माण होता हो या देश का किसी भी प्रकार का नुकसान पहुंचने से बचता हो। मैंने अनुभव किया कि जब खुद पत्रकार से पूछा जाये की आपको पुरस्कार क्यों दिया जाये? जब उसका आर्थिक सामाजिक और सामाजिक स्टेटस पूछा जाने लगे तो समझो वह पुरस्कार नहीं धंधा है। क्योंकि किसी भी पत्रकार के काम को आंकने का तरीका यह है की पुरुस्कार देने वाली संस्था यह पता करे की किसने पत्रकारिता में देश सम्पदा बचाने में ,राष्ट्र निर्माण करने में.एकता स्थापित करने में कब और कितना योगदान दिया है जिसका असर देश निर्माण के लिए हुआ है। लेकिन एस मापदंड कहीं नज़र नहीं आता। पुरस्कारों की चयन समिति में ऐसे लोग सम्मलित हैं जो किसी खबर में फाइव डब्ल्यूवन एच का फार्मूला तक नहीं लगा सकते ! ऐसे में वह पत्रकारिता से अभिज्ञ लोग कैसे लोगों को चुनेंगे आप सहज अंदाजा लगा सकते हैं। 

सरकारी स्तर पर तो चयन सरकार के चरण चुम्बन की भाषा लिखने वालों का होता है यह तो पता था लेकिन मन आहात तब हुआ जब मेरे एक अभिन्न मित्र ने मुझे एक राष्ट्रीय पत्रकरिता अवार्ड में अपना आवेदन करने का लिंक भेज था। मैंने अपने कई पत्रकार मित्रों चर्चा करते हुए पूछा की ऐसे मुझे आवेदन में अपनी खुद लिखी प्रशंसा पर पुरस्कार लेना चाहिए अथवा आवेदन करना चाहिए की नहीं ? तो उन्होंने कहा करने में क्या जा रहा है ?
मैंने उनको सही बात करते हुए पत्रकारिता के बारे में जो गुरुजनों पढ़ा और सीखा था वह ज्ञान उन्हें बताया की पत्रकार का काम जमीनी हकीकत में दिखता है और जो पत्रकार बगैर स्वार्थ के समाज और राष्ट्र निर्माण में अनवरत कार्य करता रहता है उसे किसी दलाल संस्था के प्रमाण की अभी आवशयकता नहीं होती। उसकी लेखनी ही उसका पुरस्कार है और जिस जनता के सरोकारों को अपने अपने लेख या समाचार से पत्रकार पूरा करता है वह उसे दिल से चाहने वाले दर्शक और प्रशंसक होते हैं। अंततः मैंने उस पुरुस्कार के लिए आवेदन नहीं किया जो मुझे मेरे पत्रकारिता धर्म से विमुक्त करता हो। 

अशोक कुमार निर्भय
(BA,BJMC.PGD TRANSLATION & EDITING,CIC)
लेखक रिलेशन ऑफ़ इंडिया न्यूज़ के समाचार संपादक एवं वरिष्ठ स्वतंत्र पत्रकार हैं

भारतीय एशियन आर्मरेस्लिंग टीम का दिल्ली में जोरदार स्वागत


आर्मरेस्लिंग संघ नई दिल्ली ने 24-30 अप्रैल को उजबेकिस्तान में होने वाली एशियन आर्मरेस्लिंग प्रतियोगिता में भारत का प्रतिनिधित्व करने वाली भारतीय आर्मरेस्लिंग टीम जिसमें हाशिम  रजा जाबेथ, प्राण प्रतिम चलिया, दलजीत गोराया, अयुब, श्रीमंत व अन्य खिलाडीयो का पंजाबी बाग क्लब में जोरदार स्वागत किया।

 इस अवसर पर उत्तराखंड के विधायक श्री कुवर प्रणव, दिल्ली के अध्यक्ष श्री सुनील महाजन, वरिश्ठ उपाध्यक्ष श्री दमनदीप सिंह, उपाघ्यक्ष श्री सतीश  जिंदल, श्री दीपक कपूर, श्री राजेद्र अधिकारी, श्री मोहन शर्मा, श्री अभिषेक, श्री संजय, श्री जसबीर चावला और मुख्ष् सचिव श्री लक्ष्मण सिंह भंडारी सहित बहुत से अन्य गणमान्य अतिथियों ने टीम को शुभकामनाएं दी और आर्मरेस्लिंग को और अधिक प्रोत्साहित करने में सहयोग देने का आश्वासन दिया। 

MCD Bye Polls 2016 Candidate List & Dates


Share your views @link

Happy Birthday- Harvinder Mankkar


Tuesday, April 26, 2016

Sandeep Marwah Nominated as Global Cultural Minister at Global Summit


More than 35 delegates from 23 countries of the World gave standing ovation to the legend in the field of films, television, media, art and culture promotion Sandeep Marwah who has created enormous world records and proved an asset in the field of art promotion in the World.

The delegates from 23 countries of the World announced Sandeep Marwah as the Global Cultural Minister. ”He is the real cultural Ambassador of Art and Culture,” said Dr. Bhisham Narayan Singh former Governor of many states of India.

Sandeep Marwah has been associated with more than 100 cultural organizations all over the World and has created a wonderful niche for himself. He has been honored more than 300 times including 54 international awards and accolades he has brought to India.

“It is a great honor and privileged to meet an international personality like Sandeep Marwah who is also the God Father of Nigerian Cinema” said Olusina Tunde Ayayi from Nigeria. “We are pleased to note that Marwah is also Chairing Indo Peru Cultural Association” said Vannesa Alcazar Jurdo from Peru.

It is Nice to note that Marwah is Patron to Bhutan Film Producer’s association” said Dawa Den from Bhutan. “ Impressed by the joint venture of film made here with Director from Afghanistan” said Mohammad Dawood Parwiz from Afghanistan.

“Marwah is also chairing newly constituted Indo Bulgarian Cultural Association,” said Irena Vasileva Lobutova.“I am please to note Sandeep Marwah- Man of Asia Honored With ISMRAX International Award at Bangkok for his Five-world Record last year” said Kattareeya Prompreing from Thailand.

“Marwah has been honored also by Iran Cultural Centre and and Republic of Iran Broadcasting” said Mohammad Nokhodian Esfahani from Iran.

The participating countries included Afghanistan, Niger, Nigeria, Bhutan, Myanmar, Thailand, Fiji, Sri Lanka, Bulgaria, Bahamas, Bangladesh, Cambodia, Cote D’ lvoire, Honduras, Iran, Kyrgyzstan, Liberia, Peru, Russia, Venezuela, Namibia, Zambia, Zimbabwe and India.

S.S.Dogra presented the latest issue of Dwarka Parichay newspaper to Mr.Sandeep Marwah

Our Managing Editor S.S.Dogra presented the latest issue of Dwarka Parichay newspaper to Mr.Sandeep Marwah-Founder of Film City, Noida & Mr.Vipin Gaur-Editor of "Country and Politics" weekly newspaper in their Noida office.

अनूप जलोटा, मालिनी अवस्‍थी और पंडित बिरजू महराज करेंगे भजन रत्‍न’’ रिएलिटी शो को जज


प्रेमबाबू शर्मा

एक बार फिर देश में रिएलिटी शो की धूम मची है। डांस इंडिया डांस, यू थिंक यू कैन डांस, के बीच एक नये रिएलिटी शो का आगाज होने जा रहा हैा लेकिन यह रिएलिटी शो बिलकुल अनूठा है। जो भजन पर बेस्‍ड हैा अथ इंटरटेनमेंट के बैनर तले शुरू होने जा रहे इस रिएलिटी शो क नाम रखा गया है भजन रत्‍न । इस रिएलिटी शो के डायरेक्‍टर पंकज नारायण कहते हैं, ‘’ हम पूरे देश से भजन रत्‍न ढूंढ रहे हैं और यह अपनी तरह का पहला रीयालिटी शो है जिसमें नामी गिरामी बॉलीवुड हस्तियों का  समर्थन मिल रहा है। इस रिएलिटी शो का ऑडिशन 28 मई से शुरू होगा जो 9 जुलाई तक चलेगा। मुंबई, दिल्‍ली, चंडीगढ, देहरादून, गुडगांव, नोएडा, पटना, रांची, हैदराबाद आदि 24 शहरों में इसका ऑडिशन होगा। आस्‍था चैनल पर प्रसारित होने वाले भजन रत्‍न रिएलिटी शो को दर्शक 15 जुलाई से देख सकेंगे। 

 यह अपने आप में पहली तरह का अनूठा रियालिटी शो है जिसमें सभी धर्म के लोग गाएंगे जिसमें सूफी भी शामिल होगा। जो जीतेगा उसे ‘’भजन रत्‍न‘’ के सम्‍मान से नवाजा जाएगा। एक समय था जब लोग हरिओम शरण और अनूप जलोटा के भजनों को सुनकर अपने दिन की शुरुआत करते थे, समाचार में सुनाई पडता था कि सचिन तेंदुलकर क्रीज पर जाने से पहले हरिओम शरण की भजन सुनते थे जिससे उनकी एकाग्रता बनी रहे। लेकिन नई पीढी बदलते परिवेश में इस परंपरा से दूर सी होती जा रही थी। इसी को ध्‍यान में रखते हुए इस कांसेप्‍ट के जरिए लोगों को उनके जडों से जोडना इसका मकसद है जिससे सर्वधर्म समभाव स्‍थापित किया जा सके।

भजन सिंगर अनूप जलोटा, लोकगायक मालिनी अवस्‍थी और कथक डांसर बिरजू महराज इस शो को जज करेंगे। इसका प्रसारण आस्‍था चैनल पर 15 जुलाई से हर शुक्रवार और शनिवार को किया जाएगा। इस शो में बॉलीवुड गायक एश्‍वर्य निगम, टीवी कलाकार रिचा सोनी तथा कथक डांसर आरूषि निशंक भी दिखाई देंगे। गौरतलब है कि देश के इस पहले भजन पर आधारित रियालिटी शो को सफल बनाने के लिए बॉलीवुड के जाने-माने म्‍युजिक डायरेक्‍टर और सिंगर अपना समर्थन देने जुटेंगे। ​

छोटे और मंझौले अखबारों के साथ भेदभाव के खिलाफ लड़ाई तेज करेगा एनयूजे


नेशनल यूनियन ऑफ जर्नलिस्ट्स ;इंडियाद्ध ने मध्यम और लघु समाचार पत्रों को विज्ञापन देने में सरकारी भेदभाव के खिलाफ नाराजगी जताई है। एनयूजे ने कहा है कि इन अखबारों को विज्ञापन न मिलने के कारण आर्थिक संकट का सामना करना पड़ रहा है। इस कारण इन अखबारों में कार्यरत पत्रकारों की रोजी.रोटी खतरे में पड़ गई है। बड़ी संख्या में अखबार बन्द होने से हजारों श्रमजीवी पत्रकार बेरोजगार हो गए हैं। 

एनयूजे की श्रावस्ती में 23 और 24 अप्रैल को आयोजित दो दिवसीय राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में छोटे और मंझौले अखबारों के साथ हो रहे भेदभाव के खिलाफ अभियान चलाने का फैसला किया गया। बैठक का उद्घाटन केंद्रीय पर्यटन और संस्कृति मंत्री डाण्महेश शर्मा ने किया। इस अवसर पर डाण् शर्मा ने कहा कि पत्रकारों की समस्याओं को दूर करने के प्रयास किए जाएंगे। एनयूजे नेतृत्व के साथ दिल्ली में बैठक कर सभी समस्याओं पर गौर किया जाएगा।

डाण्शर्मा ने कहा कि मीडिया समाज का आईना होता है और आईना कभी झूठ नहीं बोलता है। भ्रष्टाचार और बेइमानी को समाज के सामने लाता है। उन्होंने कहा कि पत्रकारों के उत्पीड़न की घटनाओं को रोकने के लिए कदम उठाए जाएंगे। सांसद जगदम्बिका पाल और दद्दन मिश्रा ने भी छोटे और मंझौले अखबारों की समस्याओं को सरकार के सामने रखने का आश्वासन दिया। 

एनयूजे के अध्यक्ष रासबिहारी ने कहा कि संगठन पत्रकार सुरक्षा कानून बनाने और मीडिया काउंसिल तथा मीडिया कमीशन के गठन की मांग को लेकर संघर्ष जारी रखेगा। साथ ही पेड न्यूज और अखबारों तथा चैनलों में जबरन छंटनी के खिलाफ आन्दोलन चलाया जाएगा। बैठक में मजीठिया वेज बोर्ड को लागू कराने के साथ ही नए वेज बोर्ड के गठन तथा श्रमजीवी पत्रकार अधिनियम में बदलाव करने की मांग की गई।

एनयूजे महासचिव रतन दीक्षित ने कहा कि संगठन पत्रकारों के उत्पीड़न के खिलाफ संघर्ष को तेज करेगा। देशभर में एनयूजे की मांगों को लेकर प्रदर्शन किए जाएंगे। बैठक को एनयूजे कोषाध्यक्ष दधिबल यादवए उपाध्यक्ष सुरेश शर्माए ब्रह्मदत्त शर्माए अमरनाथ वशिष्ठ और सचिव मनोज वर्माए भूपेन गोस्वामीए संगठन मंत्री ललित शर्मा ने छोटे और मंझौले अखबारों के पत्रकारों की समस्याओं पर विचार व्यक्त किए। बैठक में शामिल पत्रकारों ने केंद्र सरकार के डीएवीपी और राज्यों के सूचना विभाग में जारी भ्रष्टाचार को लेकर चिंता जताई। सभी सदस्यों ने कहा कि भ्रष्टाचार के कारण ही ईमानदारी के अखबार निकालने वाले पत्रकारों को विज्ञापन नहीं मिलता है।

एनयूजे के पूर्व अध्यक्ष और प्रेस काउंसिल के सदस्य प्रज्ञानंद चौधरीए पूर्व महासचिव प्रसन्न मोहंतीए पूर्व कोषाध्यक्ष मनोहर सिंहए मनोज मिश्र आदि ने नए वेज बोर्ड के गठन की मांग रखी। बैठक में अनुबंध प्रथा को समाप्त करने और अन्य मांगों को लेकर प्रस्ताव पारित किए गए।

भाजपा प्रत्याशी अशोक शर्मा की वार्ड संख्या 136 पर जीत प्रतीत हो रही है।


निगम संख्या-ंउचय136 के उप चुनाव में भाजपा प्रत्याशी अशोक शर्मा ने मटियाला क्षेत्र के विभिन्न गाॅव व काॅलोनियों में घर-ंघर जाकर जन-ंसम्र्पक किया। प्रातः काल में सबसे पहले अम्बराही गाॅव की चैपाल में प्रधान मनफूल का आर्शीवाद लिया और सैकडों ग्रामवासियों की जन समस्याओं को सुना। इसके बाद पोचनपुर गाॅव में भाजपा की वरिष्ठ नेत्री प्रवेश सहरावत एंव मुकेश सहरावत के संग हजारों की संख्या में उपस्थिति
 ग्रामवासियों ने उद्घोष लगाते हुए अशोक शर्मा को भारी मतों से जिताने का विश्वास दिलया। 

मटियाला के पूर्व विधायक राजेश गहलोट ने भी अशोक शर्मा के साथ खुशी राम पार्क, गुरू हर किशन नगर एंव द्वारका की मास्ट अपार्टमेंट सोसायटी में हजारों निवासियों से व्यक्तिगत तौर पर आग्रह करते हुए, अशोक शर्मो को आगामी चुनाव में भारी मतों से जिताने के लिए तन मन से सहयोग करने को ललकारा। वार्ड सं.136 भाजपा समर्थकों की संख्या दिनोदिन ब-सजय़ने लगी है, जिससे भाजपा की जीत निश्चित प्रतीत हो रही है।

भारत में जल्द होगा स्कूट का आगमन!

प्रेमबाबू शर्मा

दो साल से एशिया पैसिफिक की सबसे अच्छी एयरलाइन1 स्कूट जल्द ही भारत में नजर आने जा रही है! स्कूट तीन नए स्थानों के साथ भारत में अपने नेटवर्क का विस्तार कर रही है, जिसमें सिंगापुर-चेन्नई सेवा वह 24 मई 2016 से टाइगरएयर से लेने जा रही है और सिंगापुर से अमृतसर को 24 मई 2016 से व जयपुर को 2 अक्टूबर 2016 से सेवाएं शुरू करने जा रही है।

स्कूट के सीईओ श्री कैंपेल विलसन ने कहा, ‘स्कूट अपनी बेहतर यात्रा और सेवाओं के साथ मेहमानों को भारत में लाने के लिए खासी उत्साहित है, जो जल्द ही सिंगापुर हब के माध्यम से हमारे नेटवर्क में शामिल शानदार स्थानों के लिए सफर करने में सक्षम हो जाएंगे। हमारे नए 787 ड्रीमलाइनर्स में यात्रियों को इनफ्लाइट कनेक्टिविटी, इन-सीट पावर और कस्टमाइजेशन (अनुकूलन) के तमाम विकल्प मिलेंगे।’

उन्होंने कहा, ‘चेन्नई में हमारे लॉन्च से एसआईए ग्रुप की शानदार सेवाओं में इजाफा होगा, वहीं स्कूट की अमृतसर और जयपुर में शुरू होने वाली नई सेवाएं यात्रियों को प्रतिष्ठित स्वर्ण मंदिर और शानदार गुलाबी शहर तक लेकर आएंगी, जिससे मेहमान स्कूट के नेटवर्क के माध्यम से भारत के रहस्यपूर्ण और आकर्षक स्थलों की खोज कर सकेंगे।’

भारत में अपनी लॉन्चिंग जोरदार तरीके से करने के लिए स्कूट लिमिटेड पीरियड प्रमोशन ऑफर दे रही है। स्कूट का यह ऑफर आज 2129 बजे से शुरू होकर गरुवार (28 अप्रैल 2016) तक चलेगा। इस दौरान स्कूट के अलग-अलग गंतव्य पर भारत के पैसेंजर बुकिंग कर सकते हैं। इस ऑफर में इकोनॉमी क्लास का एयर टिकट चेन्नई, अमृतसर और जयपुर से सिंगापुर के लिए 4255 रु., सिडनी के लिए 12,567 रु. है। स्कूटबिज से सिंगापुर के लिए 11,902 रु. और सिडनी के लिए 30,520 रु. है। स्कूट ड्रीमलाइनर के शानदार ऑफर अविश्वसनीय फेयर पर मिल रहे हैं।

Summer Beauty Tips for Working Women- Skin Care

 SHAHNAZ HUSAIN

Cleansing is of great importance for the working woman, who leaves home to get to work, battling through traffic and exposing herself to the grime and pollutants in the air. Always cleanse the skin at night, before going to bed, so that you can remove make-up, stale sweat and oil deposits, as well as dirt and pollutants.

A tulsi neem face wash would be ideal for summer. It would help to remove impurities, soothe and protect the skin from eruptions and rashes.

After cleansing, tone the skin with chilled rose water or a rose-based skin tonic. It not only refreshes and cools the skin, but also helps to stimulate blood circulation to the skin surface and add a glow.

A matte moisturizer is ideal if the weather is hot and humid. For dry skins, spray on a moisture mist. If your work entails traveling, apply a sunscreen. For oily skin, oil-free sunscreen is available.

Use a facial scrub two or three times a week. A facial scrub helps to remove dead cells and provides deep cleansing of the skin. It brightens and refines the skin.

If your skin is dry, nourish it at night, after cleansing. Apply a nourishing cream and massage it into the skin, using circular strokes. The pressure should be more as you go upwards and slightly outwards. Wipe it off after 3 to 4 minutes of massage.

Twice a week use a face mask. Apply it on the face, avoiding the lips and area around eyes. Wash it off when it is dry.

To refresh your make-up, you need to carry a few items in your handbag. During summer, fragrant wet tissues can be most refreshing. They are easily available. Use them to cleanse the skin and remove grease and sweat. A powder compact of pressed powder is also handy. It helps to get rid of that oily look in summer. First wipe with the tissues and then dab powder. You also need a lipstick to touch-up after lunch. Apply powder on the lips and then apply lipstick. Remember to carry a small bottle of cologne, or your favourite deodorant.

Hair
Although long hair is in fashion, avoid keeping it loose, while you are at work. This is more so in summer. Fussing with the hair is most distracting. Put it up in a roll or pin it up. It can also be tied back in a pony tail. Actually, pony tails are in fashion. You can have a high or low pony tail, tied back with ribbons. In fact, match the ribbon with the colour of your outfit. Or, use a hair accessory. Many kinds of clips and other attractive hair accessories are available. But they should not be too decorative for work. You can even curl the ends of the hair with curlers and then tie them in a pony tail, or pin then up with a clip.

Braids (plaits) may also look nice for work, although it may take time. Braids for work hairstyle can be done on long and medium length hair. Divide your hair into three parts and intertwine it like a rope. Towards the end of the braid, use elastic band or a ribbon to tie it up. Braids look neat on young working women.

As far as the new trends are concerned, the more natural look in hair is making its way in, with a look of ease. Keep the hair away from the face. If you have short hair, wear it softly and naturally layered. Even in hair colour, use subtle colours with natural highlights.

Ms Shahnaz Husain is international fame beauty expert and is popularly known as herbal queen of India

Happy Marriage Anniversary – Keshav & Kamini


अक्सर मन्त्र जाप या अनुष्ठान विफल क्यों होते हैं ?

गीता झा 

अक्सर साधक कहते हैं की उन्होंने इतने इतने मन्त्र जाप किया अनुष्ठान किया फिर भी उन्हें सिद्धि तो दूर की बात कोई प्रत्यक्ष लाभ तक होता नज़र नहीं आता है ।

मन्त्र विज्ञान एक सुव्यवस्थित प्रक्रिया है । वर्तमान में मन्त्र-विद्या निष्फल और उपहास का विषय बनती जा रही  है । लाखों, करोड़ों की संख्या में किया गया जाप और अनेकों सम्पादित अनुष्ठानों के पश्चात भी न तो उचित परिणाम दिखाते हैं , न कोई कार्य सफल होता है और न ही मन्त्र की सिद्धि होती है । अधिकतर साधक की कुपात्रता, उतावलापन और शंकालु वृत्ति काफी सीमा तक इसके लिए जिम्मेदार है ।

भगवान शंकर कहते हैं। ……

जिह्वा दग्धा परान्नेन करौ दग्धौ प्रति ग्रहात्।
मनो दग्धं परस्त्री भिः कथं सिद्धिर्वरानने॥

वादार्थं पठ्यते विद्या परार्थं क्रियते जपः।
ख्यार्त्यथं क्षीयते दानं कथं सिद्धिर्वरानने॥


अर्थात ..........
- पराया अन्न खाने से जिनकी जिव्हा की शक्ति नष्ट हो गई, दान दक्षिणा लेते रहने से हाथों की शक्ति चली गई, पर नारी की ओर मन डुलाने से मन नष्ट हो गया फिर हे पार्वती उसे सिद्धि कैसे प्राप्त हो सकती है ?

मंत्रानुष्ठान की सफलता में बलाबल का विचार होता है । मन्त्र जाप में साधक के ऊपर दो तरह के बल कार्य कर रहे होते हैं एक प्रारब्ध का बल और दूसरा अनुष्ठान का बल ।

यदि मन्त्र अनुष्ठान का बल कम हो और प्रारब्ध का बल अधिक हो तो अनुष्ठान निष्फल हो जाता है । परन्तु यदि अनुष्ठान का बल अधिक हो और प्रारब्ध का बल कम हो तो अनुष्ठान सफल हो जाता है और मन्त्र सिद्धि हो जाती है ।

प्रारब्ध का बल कितना है यह साधारण साधक जान नहीं पाता है, इसलिए साधक को बार बार अनुष्ठान करने का निर्देश दिया जाता है जैसे ही अनुष्ठान का बल, प्रारब्ध के बल से अधिक हो जाता है मन्त्र सिद्ध हो जाता है ।

अनुष्ठान करके मनुष्य अपने प्रारब्ध से मुक्ति पा सकता है ।

मन्त्र अनुष्ठान में समय, अनुशासन और विधानबद्ध रह कर किया गया मन्त्र जाप शीघ्र परिणाम देता है । मनमौजी, अस्तव्यस्त ढंग से की गई महत्वपूर्ण साधना भी निरर्थक चली जाती है ।

यदि वाणी दूषित, कलुषित दग्ध स्थिति में पड़ी रहेगी तो उसके द्वारा उच्चारित मन्त्र भी जल जायेंगें । तब बहुत संख्या में जप, अनुष्ठान करने का कोई परिणाम नहीं मिलेगा । परिष्कृत और संयमित वाणी में ही वह शक्ति होती है जो मन्त्र को सिद्ध कर सकती है ।

मन्त्र साधना के साथ साथ साधक को नियमित अपना आत्मनिरीक्षण करना चाहिए । अपने चरित्र, व्यव्यहार, स्वाभाव, विचार, जीवन यापन, दृष्टिकोण में व्याप्त दोष, बुराइयों, अशुद्धियों को देख कर उन्हें दूर करने का उपाय करना चाहिए । जिसके फलस्वरूप एक दिन वह पूर्ण निर्विकार एवं शुद्ध हृदय का बन जाएगा। यह अटल सत्य है कि निर्विकार शुद्ध बुद्ध, दोषरहित बन जाने पर मनुष्य को वह शक्ति और सामर्थ्य प्राप्त होती है जिसके कारण उत्साह और साहस उसमें फूट-फूट कर निकलता है। सिद्धि सफलता उसके समक्ष हाथ जोड़े खड़ी रहती है। ऐसी मनोस्थिति से किया गया मन्त्र जाप या अनुष्ठान सदैव सिद्ध होते हैं ।

Happy Birthday- Nita Arora


Monday, April 25, 2016

‘चक्रवर्ती सम्राट अशोक’ में नए अशोक

 प्रेमबाबू शर्मा

कलर्स पर प्रसारित होने वाले धारावाहिक ‘चक्रवर्ती सम्राट अशोक’ अब कई सालों का लीप ले रहा है और खास बात यह है कि इसमें लोगों के चहीते अशोक यानी कि सिद्धार्थ निगम की जगह मोहित रैना दिखने वाले हैं।
पिछले कई दिनों से यह चर्चा चल रही थी कि सालों के लीप के बाद अशोक का किरदार कौन करेगा। अब खुद चैनल ने मोहित के नाम की आधिकारिक घोषणा कर दी है।

मोहित इससे पहले देवों के देव महादेव में काम कर चुके हैं और इसमें मोहित को काफी पसंद किया गया था। चक्रवर्ती सम्राट अशोक में बदलाव को लेकर कई दिनों से बातें हो रही हैं।

खुद चैनल की ओर से जारी किए गए एक टीजर में दिखाया जा चुका है कि अशोक अब बड़े हो चुके हैं। हालांकि उसमें बदले गए अशोक का चेहरा नहीं गुप्त रखा गया था।

FICCI URGES GOVERNMENT TO RESOLVE VARIOUS ISSUES HOLDING FAST TRACKING OF TRANSPORT AND INFRASTRUCTURE PROJECTS IN THE COUNTRY

FICCI’s National Committee on Transport Infrastructure has expressed concern at slow pace of on-going infrastructural and development projects in the country mainly due to decision paralysis and unwanted disputes by various concerned authorities and state governments.
“The development of infrastructure holds the key to economic growth but some of the issues are standing in the way of fast track development of infrastructure and need dispassionate Consideration. Land acquisition continues to be one of the critical areas standing in the way of doing business. In this regard, there is need to rationalise the right to fair compensation and transparency in Land Acquisition, Rehabilitation and Resettlement (LARR) Act. “ said MR K K Kapila, co-Chairman, FICCI’s National Committee on Transport Infrastructure and Chairman, International Road Federation (IRF).

“The States need to be encouraged to remove land ceiling laws on acquisition of land and create land banks of non-cultivatable contiguous land, which may even be cross State boarders, for setting up industries. There is need to move from deed based registration to title based registration. The other issues which are delaying the projects include environment clearances by the concerned states and various authorities. The land acquisition should be resolved within the stipulated period of 30-45 days and the environmental clearances on the projects should be given on priority by highlighting the points which need compliance. The clearance is subject to adherence of a set of points, as the case be. These corrective measures will help fast track the projects as well as give right signals to the international community”, said Mr Kapila.

“Most of the infrastructure and development projects including roads are held up currently on account of disputes and investment worth crores of rupees of both government and the contractors are held up on account of disputes. Mechanism for quick resolution of disputes needs to be put in place. The recent amendment in the Arbitration and Conciliation Act, making it mandatory to decide the issues within a prescribed time frame is a step in the right direction. More needs to be done to ensure fast track resolution of disputes.” He said.

“With regard to various permits required during construction, there is need to establish a single window for all construction related approvals. Standard composite forms be evolved for obtaining such clearances in a stipulated maximum time limit, as otherwise the clearance be taken as deemed once an applicant has filed the requisite papers and no decision is forthcoming within the stipulated period.” Said Mr Kapila.

“Registration of property be rationalised moving towards online system of registration, within prescribed time lines. Stamp duties should also be rationalised, and e-stamping across States be adopted. There is need to establish more Debt Recovery Tribunal (DRTs) / Debt Recovery Appellate Tribunal (DRATs) for high value cases with due empowerment of DRTs for granting specific relief. Ensure that borrowers / guarantors do not alienate their assets for which there is need to incorporate in the Recovery of Debts due to Banks and Financial Institutions (RDBFI) Act, the provision that once an original application is filed and notice served on the defendants, a restraint becomes effective from the date of service of notice, for selling, transferring, alienating, parting with the assets.” He added.

FICCI has suggested setting up of an Empowered Committee be made which could have representatives of CVC, CAG, Ministry of Law, Ministry of Road Transport & Highways and one of the Engineering Member of National Highways Authority of India. “The Committee group should be Empowered to take decisions across the table, and the decision should be final and binding. It should be non-questionable by any other authority in the Government thereafter. This will help resolve disputes and fast track projects”said Mr Kapila.

ANHLGT Dwarka are willingly come forward to support & Vote Sh Ashok Sharma

भाजपा प्रत्याशी अशोक शर्मा के समर्थन में द्वारकावासियों का सैलाब उमडा
भाजपा प्रत्याशी अशोक शर्मा के समर्थन में आगामी चुनाव के लिए वार्ड न.136 हेतु द्वारकावासियों का सैलाब उमडा. जहाँ एक ओर द्वारका सीनियर सिटीजन एसोसिएशन ने अध्यक्ष बलबीर सिंह यादव के नेतृव में पूर्ण समर्थन देने का वादा किया.

  वहीँ आज द्वारका की ही महिलाओं की सबसे बड़ी संस्था एसोसिएशन ऑफ़ नेबरहुड लेडीज गेट-टूगेदर (ए.एन.एच.एल.जी.टी.) गैर सरकारी संस्था अध्यक्षा सिसिली कोडियान की अगुवाई में भी पांच हजार महिला सदस्य हैं जिन्होंने ने दिल से सहयोग करने तथा विजयी बनाने के लिए अशोक शर्मा को आश्वस्त किया. 



 इस मौके पर मटियाला विधानसभा के ही पूर्व विधायक राजेश गहलोत ने भी अपने संबोधन में उपस्थित महिलाओं से युवा शिक्षाविद एवं कर्मठ भाजपा नेता तथा आगामी निगम चुनाव के वार्ड संख्या 136 से अशोक शर्मा को भारी मतों से जीताने के लिए एक जुट होने का आग्रह किया. महिला जन सभा में दिल्ली महिल मोर्चा कीअध्यक्ष कमलजीत सहरावत, द्वारका प्रोग्रेस्सिव क्लब की संस्थापक उर्मिला शर्मा, प्रवेश सहरावत, प्रोमिला मलिक, अनुपमा भटनागर, चित्रा जैन, रोमिला गाँधी, नीरू गुप्ता, रितु तिवारी, सुखविंदर कौर, डॉ. शील धुनटा सहित सैंकड़ों महिलाओं ने सामूहिक उद्घोष के साथ अशोक शर्मा को पूरा समर्थन देकर जीत दिलाने का भरोसा दिलाया. जन सभा में अशोक शर्मा ने अपने विचार प्रकट करते हुए कहा कि वे चुनाव जीतने के बाद जन कल्याण एवं अपने क्षेत्र में सर्वागीण विकास कार्य करने के लिए वचनबद्ध रहेंगे. गौरतलब है कि पूर्व विधायक राजेश गहलोत ने पुरे द्वारका क्षेत्र में काफी प्रभावशाली एवं साफ-सुथरी छवि बना रखी है जिसकी वजह से अशोक शर्मा के समर्थन में द्वारकावासियों का सैलाब उमड़ने लगा है.जिसके परिणामस्वरुप उक्त वार्ड पर अशोक शर्मा की विजय निश्चित प्रतीत होने लगी है.


More than five hundred members of ANHLGT Dwarka are willingly come forward to support & Vote Sh. Ashok Sharma - BJP candidate for Matiala(Ward-136) constituency. A special meeting presided over by Mrs. Cicily Kodiyan-President ANHLGT & Mr.Rajesh Gahlot was also present along with many BJP workers.

Thanks for your VISITs

 
How to Configure Numbered Page Navigation After installing, you might want to change these default settings: