Search & get (home delivered) HOT products @ Heavy discounts

Tuesday, December 15, 2015

मधुबाला की भूमिका निभाना चाहूंगी - कृति सेनन

प्रेमबाबू शर्मा
‘डायरेक्टर शब्बीर खान के निर्देशन में बनी फिल्म ‘हीरोपंती’ से हिंदी फिल्मों में कदम रखने वाली दिल्ली की कुड़ी कृति सनन के पांव आजकल जमीं पर नहीं पड़ रहे हैं। यह स्वाभाविक भी है, क्योंकि भला दूसरी ही फिल्म में बॉलीवुड के किंग खान शाहरुख के साथ स्क्रीन शेयर करने का मौका कहां सबको नसीब होता है। जी हां, आने वाली फिल्म ‘दिलवाले’ में कृति सनन भी अहम भूमिका में नजर आने वाली हैं। पेश है, कृति सनन से हुई बातचीत के प्रमुख अंश :-

दिलवाले’ में शाहरुख खान जैसे स्टार के साथ काम करने के बारे में क्या कहेंगी?
‘दिलवाले’ में शाहरुख खान के साथ अभिनय करने का मौका पाकर खुद को भाग्यशाली समझती हूं। लेकिन, इसके साथ ही अब मेरी इच्छाओं की भूख और बढ़ गई है, क्योंकि शाहरुख खान के बाद मैं बॉलीवुड के दो और चर्चित खान आमिर और सलमान खान के साथ काम करने की ख्वाहिश रखती हूं। ये ऐसे दो लोग हैं, जिन्हें मैंने अपनी अब तक की जिंदगी में बड़े पर्दे पर देखा है।

लेकिन, सुनने में तो आया था कि आप सलमान खान के साथ ‘सुल्तान’ में काम करने वाली हैं?
नहीं ऐसा नहीं है, क्योंकि इस भूमिका के लिए अब तक उनसे किसी ने संपर्क नहीं किया। हालांकि, हमने भी यह अफवाह सुनी थी कि अली अब्बास जफर-निर्देशित यह फिल्म मैंने साइन की है, जिसकी पेशकश इससे पहले फिल्म नगरी की कई नामचीन अभिनेत्रियों को की गई थी। मैं वाकई में नहीं जानती कि ये खबर कहां से आई और किसे इसके बारे में इतना सबकुछ पता है। लिखने से पहले वे इसकी पुष्टि या जांच करने तक की जहमत नहीं उठाते।

किसी खास तरह की फिल्म या भूमिका करने की भी इच्छा है?
हां, एक बायोपिक में दिवंगत अदाकारा मधुबाला की भूमिका निभाना चाहूंगी। मैं मधुबाला की बहुत बड़ी प्रशंसक हूं, क्योंकि वह बेहद खूबसूरत थीं। मैं सच में उनकी प्रशंसक हूं। वह ऐसी शख्सियत हैं, जो आज भी हमारे दिलों में जिंदा हैं और लोग उन्हें आज भी याद करते हैं। मेरे ख्याल से उनकी जिंदगी के बारे में लोगों को बताया जा सकता है। मेरे ख्याल से बहुत लोग उनकी कहानी के बारे में नहीं जानते हैं और हम उन्हें यह बता सकते हैं।

आज जब ग्लैमर वर्ल्ड में खुद को इस मुकाम पर पाती हैं, तो कैसा फील करती हैं?
बहुत ही अच्छा और रोमांचक। दरअसल, मैं गैर-फिल्मी परिवार से हूं, इसलिए फिल्मों में काम करने के अनुभव को बयां नहीं कर सकती हूं। कभी-कभी जब मैं इन फिल्मी सितारों के साथ होती हूं, तो मुझे लगता है कि वाकई में यह सच है या सपना। जब मैं आमिर, सलमान और शाहरुख की फिल्में देखा करती थी, तब मैंने कभी सपने में भी नहीं सोचा था कि एक दिन मैं इनके साथ सिल्वर स्क्त्रीन पर भी नजर आएगी।

क्या आप मानती हैं कि एक्टिंग में आपका प्रवेश मॉडलिंग के कारण ही संभव हो पाया?
बिल्कुल मानती हूं। बहुत कम लोगों को पता है कि हिंदी से पहले मैंने साउथ की फिल्म कर चुकी थी और वह फिल्म मुझे मॉडलिंग के कारण ही मिली थी। लेकिन, मेरी खुशकिस्मती रही कि डेब्रू फिल्म में ही मुझे साउथ के सुपरस्टार महेश के साथ स्क्त्रीन शेयर करने का मौका मिला, जबकि फिल्म में मैंने मीडिया रिपोर्टर की भूमिका निभाई थी। यह फिल्म सुपरहिट रही थी और इसमें मेरे काम को भी अलग से नोटिस किया गया था। उसके बाद ही ‘हीरोपंती’ में मौका मिला।

ग्लैमर वर्ल्ड में आपकी शुरुआत कैसे हुई?
मैं मूल रूप से दिल्ल्ी की रहने वाली हूं। मेरे पिता राहुल सनन दिल्ली बेस्ड चार्टर्ड एकाउंटेंट हैं, जबकि मेरी मां गीता सनन दिल्ली विश्वविद्यालय में एसोसियट प्रोफेसर हैं। मेरी एक छोटी बहन है, जिसका नाम नूपुर सनन है। मैंने अपनी स्कूली शिक्षा दिल्ली पब्लिक स्कूल, आर.के. पुरम से हासिल की, जबकि उसके बाद जेपी इंस्टीट्यूट ऑफ इन्फॉर्मेशन टेक्नोलॉजी, नोएडा से इलेक्ट्रॉनिक्स में बी. टेक किया। दरअसल, बी. टेक की पढ़ाई के दौरान ही संभवत: मुझे मेरी खूबसूरती के कारण टीवी कमर्शियल्स के ऑफर मिलने लगे थे। चूंकि मुझे भी ग्लैमर वर्ल्ड पसंद था, सो मैंने विज्ञापनों में काम करना शुरू कर दिया। उस दौरान मैंने क्लोज-अप, अमूल, सैमसंग, हिमालया जैसे नामी ब्रांड के लिए ऐड किए। वर्ष 2012 में मुझे विल्स लाइफस्टाइल इंडिया फैशन वीक में बतौर मॉडल हिस्सा लेने का अवसर मिला। उसके बाद मैंने चेन्नई इंटरनेशनल फैशन वीक के साथ-साथ इंटरनेशनल ज्वेलरी वीक में भी हिस्सा लिया। यहां तक कि मैंने रितु बेरी, सुनित वर्मा एवं निकी महाजन की डिजाइनों के लिए भी मॉडलिंग की है। उसके बाद से तो मानो ग्लैमर वर्ल्ड से अटूट रिश्ता बन गया।

आपको कविताएं लिखने का भी शौक है?
हां, मुझे कविताएं लिखने का शौक है। जब मैं कालेज की पढ़ाई कर रही थी, उस दौरान मैंने बहुत सारी कविताएं लिखी थीं, लेकिन मुंबई आने के बाद काम में व्यस्त हो गई। अभी अपने अगले प्रोजेक्ट पर ध्यान दे रही हूं। हालांकि, पहले कविताओं के माध्यम से भावनाएं बाहर आती थीं और अब यह काम अभिनय से होता है।

खुद को फिट रखने के लिए क्या करती हैं?
आपको बता दूं कि मैंने वर्कआउट करना मुंबई आकर शुरू किया, क्योंकि मायानगरी में रहना है, तो फिट भी रहना जरूरी होगा। वैसे, मैं हफ्ते में 4-5 दिन वर्कआउट करती हूं। सालसा और कराटे की ट्रेनिंग ले चुकी हैं। मेरे लिए किक बॉक्सिंग ऐसा व्यायाम है, जिससे संतुलन और एकाग्रता बढ़ती है। हालांकि, कार्डियो वर्कआउट नहीं करती हूं, लेकिन योग और प्राणायाम मेरे व्यायाम में शामिल हैं। मुझे डांस करना काफी पसंद है, इसलिए रोज कम से कम एक घंटा अभ्यास जरूर करती हूं। मेरा मानना है कि बॉडी बनाने के लिए स्टेरॉइड्स के इस्तेमाल से बचना चाहिए, क्योंकि इनके शरीर पर काफी दुष्प्रभाव होते हैं।

Thanks for your VISITs

 
How to Configure Numbered Page Navigation After installing, you might want to change these default settings: