Search latest news, events, activities, business...

Saturday, December 26, 2015

मीनाक्षी परिवार ने मनाया गरीब बच्चों के साथ क्रिशमिस डे


अशोक कुमार निर्भय

दिल्ली के शकूर बस्ती स्लम इलाके में ठण्ड और गरीबी से जूझते बच्चों के मुह पर उस वक्त मुस्कुराहट आ गई जब हर वर्ष की ही तरह मीनाक्षी मल्होत्रा अपने हाथो में उनके लिए गिफ्ट और क्रिशमिस केक लेकर उनके घरो में पहुची। मीनाक्षी मल्होत्रा गैर सरकारी संघठन मीनाक्षी परिवार चलाती है और पिछले पांच वर्ष से वह इन झुग्गिओ के बच्चों के बीच खुशिया बाँट रही है ।इन्हें इसी में सकून मिलता है जहाँ लोग अपने घरो में त्यौहारो में मग्न होते है वही मीनाक्षी मल्होत्रा को इन बच्चों की याद यहाँ खीच लाती है और वह दीवाली ,होली,ईद,या क्रिशमिस कोई भी मोका नहीं छोड़ती इन बच्चों के बीच रहकर खुशिया बाटने और खुद खुश रहना का. इस बार भी मीनाक्षी परिवार के तले मीनाक्षी मल्होत्रा ने बच्चों के लिए डांस कम्पीटीशन और मोज मस्ती के लिए स्लम इलाके में डीजे लगवाया जिसपर बच्चों ने मनपसन्द गानो पर जमकर मोज मस्ती की वही इन बच्चों में से अच्छे प्रदर्शन के लिए कुछ को शील्ड और इनाम भी दिए गए। और कई समाज सेवियों और लोगो द्वारा इलाके के बच्चों में खाना भी वितरित किया गया इस मोके पर गरीब बच्चों के लिए सामाज सेवी अमित बूढ़ पुर अलीपुर गाँव दिल्ली से जावेद कंप्यूटर मार्किट वजीर पुर ,यश मेडिकल स्टोर, गगन बाइक पॉइंट मंगोल पूरी व् कई रोहिणी के समाज सेवको ने झुग्गियो मे बच्चों के लिए सहयोग किया और क्रिस मिस केक कटा गया।

इस मोके पर मीनाक्षी मल्होत्रा ने घर में बच्चों को काम करवाने और प्रताड़ित करने वाले शराबी और गैर जिम्मेदार लोगो से कहा की वह इस बात का कड़ा विरोध करती है।उन्होंने कहाँ की बच्चों से उनका बचपन न छीने खासकर लड़कियो पर होते अत्याचारो की भी उन्होंने जमकर भृत्ष्णा की और कहा की अगर उनके पास अगर कोई शिकायत आई तो वह पूरी तरह से कार्यवाही करवाएगी ताकि बच्चों का जीवन बर्बाद न हो क्योंकि वैसे ही यह अभावो में जीते है उसपर परिवार की डांट फटकार यह बच्चे इस देश का भविष्य है इन्हें खुश रहने दे और इनकी प्रतिभा को निखरने दे सरकार ने कई योजना बनाई है उनका भी लाभ उठाए और शिक्षा की और उन्हें आगे जाने दे।क्योंकि यही तो देश का सुनेहरा कल है जिसे आज ही सुरक्षित करना जरुरी है।और आप और हम जब मिलकर करेगे तो जरूर एक सभ्य शिक्षित समाज निर्माण हो सकेगा।

Thanks for your VISITs

 
How to Configure Numbered Page Navigation After installing, you might want to change these default settings: