Search latest news, events, activities, business...

Sunday, June 30, 2013

Chandril has great potential to become a good cricketer


Chandril Tiwari who is a student of VIth class in K R Mangalam World school, Vikaspuri, New Delhi. Virat Kohli is his favourite cricketer. His father is an educationist and businessman. His mother is fully devoted to nurture and support him a lot to flourish in the game. His father also spare few hours with his son and plays cricket with him.He is very passionate about cricket. He is learning Cricket under a very experienced Cricket coach Sh. Parvinder ji at Dwarka Sports Complex, Sector-11, Dwarka. He wants to become an all-rounder but mainly focusing on batting besides spin bowling. He likes to watch old cricket matches and always eager to learn new techniques from them. He knows every cricketers by his name and their contribution to cricket. His passion for cricket and his skill can make him a good cricketer one day.

Kavita Kaushik is back with a bang on SAB TV’s FIR


Prembabu Sharma

We’ve all seen Kavita Kaushik’s bindaas attitude and ishtyle on SAB TV’s most popular show, FIR.She gained immense popularity for her role as Inspector Chandramukhi Chautala and thoroughly entertained viewers with her perfect comic timing, her attitude and all the drama. Now she’s back on FIR; bringing alot more special elements in her typically admired Chandramukhi style!

She will enthrall the audiences with some thrilling action-packed performances and mind-blowing stunts. With action-packed performances and mind blowing stunts, Kavita Kaushik is back to give her fans and viewers the best of the very best! This time, it is not just the usual Chandramukhi Chautala that you have been seeing for 8 long years; she will now be seen performing dynamic stunts and breath-taking action sequences along with her much adored comedy quotient.

Speaking of her come-back, Kavita stated, It feels great to be back on FIR. I feel like I’ve come back to my friends. In fact everyone around me is so excited and kicked. My entry into the show has also been planned really well, with action sequences and stunts. I’m really happy to be back and I’m certain that the viewers are going to thoroughly enjoy watching the show as I continue to entertain them in a dhamakedaar andaaz!” With Kavita back on the show, one thing is for sure, the viewers are in for a series of gripping sequences!

ZOONOSIS - 2013 on 6th July


Saturday, June 29, 2013

JOIN ALCOHOLICS ANONYMOUS 5th Anniversary Celebrations


ALCOHOLICS ANONYMOUS 
INVITATION

“Program of Recovery Group” Dwarka

Invites you to its 5th Anniversary

Members in recovery will share their experiences on “recovery from alcoholism” and how they are useful members of society once again

Date: 30th, June 2013 (Sunday)
Time: 5 PM – 8 PM
Venue: Dwarka Health Center - Sector 12

DWARKA HELPLINE – 8010604020

AA NEW DELHI – NCR 
Golden Footwork Intergroup

78 Years – 185 countries – over 3 million in recovery

DLCL-2013 held in Chilla Sports Complex

                                                                                                                                                (Photo: Akshansh Dogra)


The selection of Cricketers for Delhi L’il Cricket League-2013 were held on 8th June at DDA Sports Complex, Sector-11, Dwarka, Hari Nagar Sports Comple on 22nd June & today i;e. 29th June at Chilla Sports Complex, Vasundra . In these said trials more than 300 cricket players from various parts of Delhi & NCR participated.

                                                                                                                     (Photo: Akshansh Dogra)


After these trials the selection of budding cricketers will be held at Najafgarh, Gurgaon, Noida, Bahadurgarh, Ghaziabad and Fridabad etc. This initiative step for upcoming cricketing generation is taken by Human Research and Development (Registered) (HRDO)-NGO who has successfully organized DLCL in 2011 and 2012 also. It is the best platform for the budding cricketers to show their talent in front of national & international reputed players & coaches.

According to Mr. Ganesh Dutt-Chairman of HRDO, “We will select 8 teams from each age group U-14, U-16 & U-19 age category. On 2nd October, with a grand opening ceremony at Talkatora Stadium, the tournament will start and final match will be palyed at Air Force Cricket ground, Palam. On 14th November, we will felicitate the outstanding players of the tournament in a grand closing ceremony”.
This T20 overs tournament ( DLCL) has got recognition from Indian Premier Corporate League (Indian Twenty20 Cricket Federation (ITCF) approved by Ministry of Sports & Youth Affairs - Government of India.

For more information contact: 
Mr.Ganesh Dutt - Chairman (M: 9718753188)
Mr.S.S.Dogra-Media Advisor (M:9811369585)

उत्तराखण्ड और हिमाचल प्रदेश में प्राकर्तिक आपदाग्रस्त लोगों को समर्पित विशेष संपादकीय

आदमी हूँ आदमी की बात करता हूँ

एस. एस. डोगरा

पिछले दिनों देव भूमि कहे जाने वाले राज्यों उत्तराखण्ड और हिमाचल प्रदेश में आई दिल दहला देनी वाली प्राकर्तिक आपदा ने पूरे देश वासियों को हिला कर रख दिया। ईश्वर ने ना जाने क्यों इस पावन भूमि पर क्यों कहर बरपा। विश्व प्रसिद्ध व धार्मिक आस्था के प्रतीक केदारनाथ, बद्रीनाथ व अन्य क्षेत्र में लाखों बेकसूर लोगों की मौत के साये ने सब कुछ बर्बाद कर डाला। गौरतलब है कि केदारनाथ धाम ही इस प्राकर्तिक आपदा का केन्द्र बिन्दु था। 

इसी तरह भारत का स्विट्जरलैंड कहलाने वाला राज्य हिमाचल प्रदेश के किन्नौर जिला में भी बादल फटने व मूसलाधार वर्षा होने के कारण हजारों मौतें हुई और भूसंखलन से संपर्क टूट गया। उक्त राज्यों में हुई प्राकर्तिक आपदा से सभी भारतवासियों को गहरा दुख पहुंचा है। हालांकि मैं भी हिमाचल राज्य का मूल निवासी हूँ परन्तु मुझे भी इन दोनों राज्यों हुए त्रासदी का विशेष रूप से गहरा सदमा पहुंचा है। वास्तव में, मुझे पहाडों पर भर्मण करना बेहद भाता है इसीलिए मुझे दोनों ही राज्यों से विशेष लगाव रहा है। लेकिन ईश्वर की लीला निराली है वह कब किसी को राजा व रंक बना दे कहीं कुछ मालूम नहीं है। उपरोक्त त्रासदी के कारण दोनों राज्यों के लाखों निवासियों को शारीरिक, मानसिक व आर्थिक जख्म दिये है जिनको भरपाई होने में ना जाने कितना समय लगेगा। 

उत्तराखण्ड राज्य के माननीय मुख्य मंत्री विजय बहुगुणा व मुख्य सचिव सुभाष कुमार ने भी राहत कार्यों में जुटी विभिन्न राज्य सरकारों, राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन प्राधिकरण, इंडो-तिब्बत सीमा सुरक्षा बल, भारतीय हवाई व थल सेना, संस्थाओं व समाज सेवियों की तहे दिल से सराहना की। जिन्होने रात-दिन एक करते हुए मानव बचाव कार्यों में प्रमुख भूमिका निभाई। पर्यटन राज्य मंत्री के. चिरंजीवी, गुजरात के मुख्यमंत्री नरेन्द्र मोदी, हरियाणा के मुख्य मंत्री भूपेन्दर सिंह हुड्डा, दिल्ली की मुख्यमंत्री शीला दीक्षित, सहित अन्य नेताओं द्वारा क्षतिग्रस्त क्षेत्र के लिए प्रदान की गई सहायता राशि के लिए उन्हे विशेष रूप से याद किया जाएगा। वहीं दूसरी और हिमाचल प्रदेश में भी वहाँ के मुख्य मंत्री वीरभद्र सिंह तथा हमीरपुर के ही युवा सांसद अनुराग ठाकुर ने जिंदा दिली दिखाते हुए क्षतिग्रस्त क्षेत्र का दौरा किया। वैसे इस संकट की घडी में मीडिया एजेंसियों ने भी लोगो तो तरोताजा जानकारी प्रदान करने से लेकर खाद्य व धनराशि एकत्र कर सच्ची समाज सेवा व देशभक्ति का विलक्षण यह समाज के लिए भी प्रेरणादायक उदाहरण साबित हो सकता हैं।

उपरोक्त घटनाओं से मैं भी बहुत क्षुब्त हुआ तथा मुझे 26 जनवरी, 2001 का दिन याद आ गया जब गुजरात में आए भारी भूकम्प ने हजारों लाशों का मंजर देखा था। संयोगवश, मुझे भी 28 जनवरी,2001 को दिल्ली चैन संगठन के व्यापारी दल के साथ जाने का मौका मिला। मैं शायद, उस दिन को जिंदगी में कभी भूल ही नहीं सकता क्योंकि वह मेरे जीवन की पहली हवाई यात्रा थी। हालांकि उस कहर को देखकर, मेरी पत्नी मुझे वहाँ भेजने के लिए कतई तैयार नहीं थी। परन्तु मेरी हठ के आगे उसकी एक न चली और मैं समाज सेवी दल के साथ अहमदाबाद हवाई अड्डे पर जैसे ही पहुंचा तभी बडे जोर के भुकम्भी झटके महसूस हुए मानो जैसे पूरा हवाई अड्डा ही हिल गया था। वहाँ से मैंने अपने साथी मित्र विजय भाटिया जी के मोबाइल की सहायता से अपने परिवार को फोन कर अपनी कुशलता पूर्वक पहुँचने की सूचना दी। अहमदाबाद शहर में भी कुछ क्षतिग्रस्त इमारतों, गौशाला व खुले मैदान में टैंटों में विस्थापित राहत शिवरों का दौरा किया। यहाँ पर लोग अपनी जान बचाने हेतु अपने-अपने आलीशान बंगलो व फ्लैटों को त्यागकर सडक पर शरण लेते हुए देखा। वहाँ हमने पूरे दो दिन रुककर भुज व भधोच के दुर्गम व पिछडे ग्रामीण इलाकों में भूकंपग्रस्त पीडितों को राहत व खाद्य सामाग्री प्रदान की। 
इसी तरह सन 2008 में बिहार प्रदेश में आई भयंकर बाढ़ ने तबाही मचाई। उस बार भी हमने सोसाइटी फॉर क्रिएटिवस(पंजीकृत) गैर सरकारी संस्थान के बैनर तले द्वारका में मेरे मित्र संजय शर्मा, सैक्टर-10, के यहाँ कपडे, खाद्य सामाग्री व कुछ धनराशि जुटाने में छोटा सा प्रयास किया। हमें पूरी दिल्ली व इसके आसपास इलाकों जैसे नागलोई, गुड़गाँव, फ़रीदाबाद, नोएडा, गाजियाबाद आदि से अनेक शिक्षा संस्थाओं, समाजसेवियों, और यहाँ तक कि हमारी महिला पत्रकार मित्र स्वाति(टाइम्स ऑफ इंडिया), दृष्टिहीन समाजसेवी अनिल वर्मा, शिक्षाविद शिम्मी खेर, सुप्रसिद्ध कवियत्री कीर्ति काले, पी. के. द्विवेदी, सरिता, अमित रंजन, एन. के. वर्मा, बैंक प्रबन्धक मुकुल शर्मा आदि सहयोगियों बदौलत कपड़े, खाद्य, बर्तन आदि सामाग्री एकत्र एक भरा ट्रक बाढ़ग्रस्त बिहार प्रदेश के लिए रवाना किया। इसके अलावा प्रधानमंत्री राहत कोष में दस हजार रूपये आहुती स्वरूप प्रधानमंत्री कार्यालय में भिजवाई। 

इस बार भी कुछ सहायता करने की सोच है यदि आप लोग सभी मिलजुलकर देश के सामने आयी संकट की घड़ी में अपने वतन का फर्ज निभाना है तो निःसंकोच खुलकर सहयोग देना होगा। आप हमें “प्रधानमंत्री राहत कोष” के नाम से ड्राफ्ट बनवाकर हमारे कार्यालय में प्रेषित करें। इस पुण्य कार्य में आहूति के लिए योगदान राशि कोई भी मापदंड नहीं, आप अपने सामर्थ्य के अनुसार परन्तु दिल खोलकर दान करें, ईश्वर स्वतरू ही आप पर कृपया करेंगे।

इस कार्य में योगदान देने वाले प्रतेयक भागीदारी ड्राफ्ट राशि के साथ अपना नाम व पता भी जरूर प्रेषित करें। हम उसे अगले अंक में विशेष रूप से प्रकाशित करेंगे। यदि आप अपना नाम गुप्त रखना चाहे तो उस गोपनियता का भी स्वीकार किया जाएगा, परन्तु दान केवल ड्राफ्ट के रूप में “प्रधानमंत्री राहत कोष” के नाम से ही देवें। मुझे आप सभी हिंदुस्तानियों पर भरोसा है कि आप केवल स्वयं ही नहीं बल्कि अपने परिवार, दोस्तों, रिशतेदारों, पड़ोसियों, समाज सेवियों को भी इस नेक काम के लिए प्रेरित करें। मुझे मशहूर गायक मुकेश जी के गाये गाने के बोल याद आ रहे हैं कृपया गौर फरमाएँ

“बस यही अपराध मैं हर बार करता हूँ, आदमी हूँ आदमी की बात करता हूँ।“

Friday, June 28, 2013

Jansanskriti Dwarka organising Kalikkalam 2013


Jansansankriti Dwarka is organising 

 KALIKKALAM (Children's Workshop) 
Date: SUNDAY 30th JUNE 2013, 
Time: 10 AM ONWARDS 
Venue: Aiswaryam Apartment, Community Hall, 
Sector-4, Pocket-17, Dwarka

For participation of  your children in this personality development program, please contact: 98106 31392

उत्तराखण्ड प्राकृतिक आपदा के लिये भारत विकास परिषद् ने लिया एक करोड़ रुपये योगदान का संकल्प


 उत्तराखण्ड में आई प्राकृतिक आपदा में राहत और पुर्नस्थापन कार्य में योगदान देने के लिए भारत विकास परिषद् ने एक करोड़ रुपये व्यय करने का संकल्प लिया है। इस आशय की जानकारी देते हुए भाविप दिल्ली प्रदेश उत्तर के मुख्य संरक्षक श्री महेश चन्द्र शर्मा एवं प्रमुख परामर्शदाता तथा राष्ट्रीय उपाध्यक्ष श्री भूपेन्द्र मोहन भंडारी ने संयुक्त रूप से बताया की इस संबंध में परिषद् के राष्ट्रीय महामंत्री श्री सुरेन्द्र कुमार वधवा की अध्यक्षता में केन्द्रीय पदाधिकारियों की एक बैठक भारत विकास भवन, पीतमपुरा, दिल्ली में सम्पन्न हुई। इसमें इस आपदा से प्रभावित व्यक्तियों एवं क्षेत्रों के प्रति हार्दिक सहानुभूति प्रकट की गई तथा बडे पैमाने पर राहत और पुर्नस्थापन कार्य में योगदान देने का निर्यण लिया गया। इसके लिए कुल मिलाकर एक करोड रुपये व्यय करने का संकल्प लिया गया है। परिषद् ने अपने वर्तमान कोषों में से 25 लाख रुपये की राशि आवंटित की है और शेष 75 लाख रुपये देश भर में फैली 1200 शाखाओं एवं उनके सदस्यों से एकत्र किया जायेगा।

भाविप दिल्ली प्रदेश उत्तर के अध्यक्ष श्री राजकुमार जैन, महासचिव श्री संजीव मिगलानी एवं कोषाध्यक्ष श्री बी बी दिवान ने बताया कि परिषद् ने अपने सभी सदस्यों से इस हेतु परिषद् द्वारा बनाये गये उत्तराखण्ड प्राकृति आपदा राहत कोष में उदारता पूर्वक सहयोग देने की अपील की है। यह राशि परिषद् के सदस्य अपने शाखाओं के माध्यम से दे सकते हैं अथवा परिषद् के केन्द्रीय कार्यालय में सम्पर्क कर परिषद् के बैक खाता में जमा कर सकते हैं। परिषद् ने यह निर्णय लिया है कि आपदा से प्रभावित क्षेत्रों में पुर्नस्थापन कार्य पर विशेष जोर देगी, जिनमें स्कूलों, चिकित्सा केन्द्रों और तीर्थ यात्रियों के लिये आवास इत्यादि की व्यवस्था की जायेगी तथा आपदा से प्रभावित क्षेत्रों में, आर्थिक रूप से पिछडे लोगों के लिए आवास का निर्माण, पुनर्निमार्ण और जीर्णोंद्धार का कार्य किये जायेंगे।

Latest film release - GHANCHAKKAR

Film: GHANCHAKKAR; Release Date : 28, June 2013
Director ---Rajkumar Gupta
Producer --- Siddharth Roy Kapur
***** Starring ***** 
Emraan Hashmi, Vidya Balan

बालीवुड में मेरी प्रतियोगिता प्रियंका से है: मीरा

प्रेमबाबू शर्मा

हाट पाकिस्तानी अभिनेत्री मीरा पिछले दिनों काफी सुर्खियों में रही है । अब एक बार फिर से फिल्म ‘भडास’ को लेकर सुर्ख़ियों में है । अजय यादव द्वारा निर्मित निर्देशित ‘‘भडास’ में मीरा अपने किरदार और फिल्म में अपने किरदार को लेकर क्या सोचती है जानते है उनकी ही जुबानी:


‘भडास’ में ऐसा क्या था कि आपने तुरन्त फिल्म के लिए हाँ  कर दी ?
जब अजय जी ने मुझे इस फिल्म की कहानी सुनाई तब मुझे इसका कन्सेंप्ट बहुत अच्छा लगा और फिल्म में मेरा रोल भी दमदार था सो मैने फिल्म में काम करने के लिए हाँ कर दी।

किस तरह की फिल्म है भंडास ?
भंडास एक मनोविज्ञानिक थ्रिलर है । जो कम बजट के बाद भी एक अच्छी फिल्म है। डेजी किसी बीमारी से ग्रस्त है और वह हर पूर्णिमा को किसी भी पुरूष की तलाश में निकल जाती है और उसके् बाद जो कुछ भी होता है वह सिर्फ एक रहस्य है ।

आपने किरदार के बारे मे कुछ बताऐं ?
मैंने डेजी नामक किरदार को निभाया जो पेशे लेखिका है। डेजी स्पिलट पार्सनेल्टी की शिकार है और फिल्म में दो  हीरो है दोनों ही मुझे प्यार करते है जबकि मुझे अपनी आजादी प्यारी है। कुल मिलाकर यह बेहतरीन रोल है। 

लेकिन आपके निर्माता निर्देशक अजय यादव का आरोप था कि आप अन्प्रोफ़ेसनल है ?
मैं पूरी तरह से प्रोफ़ेसोनल हूँ  । मैंने फिल्म के शुरू मे  ही अजय जी को ‘भडास’ की शूटिंग के लिए एक साथ 70 दिन दे दिये थे और बिना किसी परेशानी के मैंने शूटिंग भी की । इसके बाद मेरे मैनेजर व अजय जी के बीच कुछ गलत फहमीं हो गई थी मैने पहले ही अपने मैनेजर को बता दिया था कि मै मई के महीने में नहीं आ सकती क्योंकि वे तारीखें मैने पहले से टोरन्टो में हो रहे ‘पंजाबी फिल्म फैस्टिवल’ को और पाकिस्तान मे अपनी मां को इलैक्शन में मदद करने के लिये दी हुई थीं। पूरा मई  महीना मेरा इलैक्शन ओर फिर माँ के अस्पाताल बनवाने मे  निकल गया। मुझे अपने साथ 12 बाडीगार्ड रखने पडते थे पर मैं  अपनी मां‘ को दिये गये कमिटमेंट से पीछे नही हट सकती थी इसके बाद से मैं कनाडा मे थी।

चर्चा थी, कि आप केस के कारण ही हिन्दुस्तान आई है ?
असल में कुछ गलत फहमियों ने मामले को उलझा दिया था मैने इसके लिए अजय जी से माफी भी मांगी अब सब ठीक है और अब हमारा पूरा ध्यान फिल्म की प्रमोशन पर है।

आप बोल्ड फिल्मे ही क्यों साइन  करती है ?
अगर कहानी बोल्ड है तो इसी के हिसाब से किरदार भी तो बोल्ड ही होगा। कलाकर को कहानी के बहाव के साथ जाना होता है। ‘भडास’ में मेरा किरदार बोल्ड है पर स्क्रिप्ट की जरूरत के हिसाब से ना कि बेकार में दर्शकों को लुभाने के् लिये।  बालीवुड में कई बार फिल्मों मे  कई किरदार नकली लगते हैं क्योंकि वे कहानी की जरूरत होते हुए भी सीन को बदलवा देते हैं , या फिर बोल्ड सीन करते समय खुद की हडबडाहट की वजह से अजीब से लगते है ।

चूंकि आप पाकिस्तान से है आप कहां की फिल्मों को बेहतर मानती है बालीवुड या हालीवुड की ?
मुझे हालीवुड की फिल्मे बेहद पसन्द है क्योंकि इनमे हर किरदार और कहानी असली लगती है चाहे किसी भी तरह की फिल्म हो इसे देखा कर नही लगता कि कोई भी कलाकार ये सीन जबरदस्ती कर रहा है। वहीं बालीवुड में बहुत बार ऐसा लगता है कि कलाकार से ये सीन जबरदस्ती बे मन से करवाया गया है, विशेषकर अगर वो रोमांटिक सीन हो । यहां पर कलाकार सिर्फ निर्देशक के बताये हिसाब से सीन करता है तो कई सीन बेजान से लगते है। हा‘लीवुड तो हा‘लीवुड है।

आपने एक बार कहा था कि आप बालीवुड में बडे ही बैनर की फिल्में करेगी ?
मैने कहा था कि मै अच्छी फिल्मों में काम करना पंसद करूगी भडास’ एक अच्छी फिल्म है । वैसे भी काम तो काम है, बडी या छोटी फिल्म से क्या फर्क पडता है। करन जौहर बडे मेकर होंगे  पर और लोग भी अच्छी फिल्मे बना रहे है। मै काम करती रहना चाहती हूँ ।खाली बैठना सबसे बडी गलती है। मैने पार्टीयों में देखा है कि स्ट्रगलर्स कितने डिप्रेस होते हैं ।

पर बडे बैनर में काम करना क्या हर कलाकार का सपना नही होता है ?
हाँ होता है पर इसके इंताजर में बिना काम के बैठकर खुद को डिप्रेस नही करना चाहिए। काम करते रहना बहुत ही महत्वपूर्ण है। काम ना होने की वजह से आत्महत्या करना क्या जायज है। मै हर काम को एक सकारात्मक सोंच क साथ में करती हूँ । भडास मे मेरा किरदार अच्छा है, कहानी अच्छी है, तो मेरे लिये तो भडास ही बडी फिल्म है।

पर फिल्म के अन्य कलाकारों के् साथ काम का अनुभव कैसा रहा?
मेरे अलावा फिल्म में आर्यमन रामसे, आशुतोष, श्रीराजपूत, अनंत महादेवन, मोहिनी नीलकंठ, मुश्ताक खान, शिवा, श्रवानी व गार्गी पटेल इस फिल्म में है। पर मुझे अपने काम से ज्यादा मतलब था। वैसे सैट पर काम का माहौल बहुत अच्छा था।

चर्चा है कि आप भी फिल्मों में आइटम नंबर कर रही है ?
मैने राजपाल यादव की आने वाली फिल्म ‘बम्पर ड्रा‘’ में एक आइटम नम्बर किया है। इसके अलावा मेरी पाकिस्तानी पंजाबी फिल्म ‘इश्क खुदा’ अभी टोंरटो पंजाबी फिल्मफैस्टिवल में स्क्रीन हुई है और इसे लोगों ने काफी पसंद भी किया है।

बा‘लीवुड में आपका प्रतिद्वन्दी कौन है ?
प्रियंका चोपडा । मै इनकी तरह के् किरदार करना चाहती हूं और मौका मिला तो मैं खुद को प्रूव  भी करके दिखाउंगी ।

युवाओं एवं बच्चों में नशे की बढ़ती प्रवृति को रोकने के लिए कार्यक्रम किया गया


युवाओं एवं बच्चों में नशे की प्रवृति को यदि रोकना है तो सरकार के साथ-साथ स्वयं सेवी संस्थाओं को भी आगे आना होगा।  द्वारका उपनगरी के मेट्रो स्टेशन सेक्टर -12 के रेन बसेरा में ओ.एन.जी.सी., एन.टी.पी.सी., आई.ए.एम.एस., मद्य निषेध निदेशालय, दिल्ली सरकार एवं श्री ज्ञान गंगोत्री विकास संस्था के संयुक्त तत्वधान में विश्व नशा मुक्ति दिवस 26.06.2013 के अवसर पर सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इस कार्यक्रम में लगभग 2000 महिलाओं बुजुर्गो, युवाओं एवं बच्चों ने बढ-चढ कर भाग लिया बच्चों द्वारा प्रस्तुत सांस्कृतिक कार्यक्रम ने दर्शाकों को खूब लुभाया। जरूरत है ऐसे कार्यक्रम को हर जगह करने की इस कार्यक्रम में जन प्रतिनिधि, समाजसेवी तथा बुद्विजीवि नागरिकों ने कार्यक्रम की प्रशंसा की क्योंकि नशा आज युवा पीढ़ी को अपने गिरफ्त में ले रहा है। यह नशा मीठे जहर की तरह काम करता है। यदि इसे जल्दी नही रोका गया तो भावी पीढ़ी पथ भ्रष्ट हो जायेगी। इसलिए आज युवा एवं बच्चों में नशे की प्रवृति को रोकने के लिए स्वयं सेवी संस्थाओं को आगे आना होगा तभी हम नशा मुक्त समाज की परिकल्पना कर सकते हैं। उक्त विचार प्रोफेसर हंसराज सुमन ने अपने अध्यक्षीय भाषण में वे श्री ज्ञान गंगोत्री विकास संस्था द्वारा विश्व नशा मुक्ति दिवस के अवसर पर आयोजित कार्यक्रम में बोल रहे थे।


प्रो. हंसराज सुमन ने आगे अपने विचार व्यक्त करते हुए कहा कि नशे की प्रवृति आज देश में छोटे-छोटे युवाओं एवं बच्चों में बढ़ रही है। यदि स्कूली स्तर पर बच्चों एवं युवाओं को नशे के विषय में नही बताया गया तो यही युवा एवं बच्चे धीरे-धीरे नशे की ओर बढ़ने लगेगें। आज सड़कों के किनारे बेसहारा युवा और बच्चे पड़े रहते हैं उनमें नशे की लत ज्यादा देखी जा सकती है। यही युवा एवं बच्चे स्कूल और विश्वविद्यालय न जाकर फ्लूड व इन्जेक्शन के द्वारा ड्रग्स का इस्तेमाल करते हैं। जो धीरे-धीरे उनके शरीर को खोखला कर देता है। जिससे वे नशे की इस लत से बाहर नही निकल पाते हैं। इसलिए आवश्यकता है कि सरकार के सहयोग से स्वंय सेवी संस्थाओं को नशा मुक्तजन जागरूकता अभियान चलाना पड़ेगा और दिल्ली जैसे महानगर को नशा मुक्त बनाना होगा। आगे प्रो. समन ने कहा कि हमारे देश के मंत्री नेता और बडे पदाधिकारी काम करने वाले स्वयं सेवी संगठन को समानित नहीं करते और नाहीं उनकों काम करने का मौका देते है कुछ ऐसे संगठन है जो मंत्री और पदाधिकारी के इशारे पर चलती है इससे नशामुक्त समाज नहीं बन सकता है आज जरूरत है गली, मौहला एवं कची कलोंनी में रहने वाले मजदूर लोंगो को जागरूक करने का। तब जाकर हम इस काम में सफल हो सकेंगे।

बिशिष्ट अतिथि अवर सचिव अम्बरिश कुमार ने कहा कि नशा आज संक्रमक बीमारी की तरह तेजी से समाज को खोखला कर रहा है। इस जहरीले सेवन से घर परिवार की बर्वादी होती है साथ ही शारीरिक तथा मानसिक क्षति होती है। समाज में व्यक्तित्व पर भी असर पड़ता है। यह लत न केवल व्यक्ति बल्कि पूरे समाज को भी प्रभावित करती है। उन्होंने कहा कि ओ.एन.जी.सी. एवं एन.टी.पी.सी. से में गुजारिश करूगां कि बडी एन.जी.ओ. के वजह से छोटे समाजसेवी संगठन ज्यादा ही सक्रिय होकर काम करती है और इनके प्रचार-प्रसार से ज्यादा लोगों तक इसका असर पड़ता है आज के कार्यक्रम में द्वारका उपनगरी के 50 लोगों ने नशामुक्त होने का जो संकल्प लिया यह अपने आप में बहुत ही सराहणीय है।

कार्यक्रम में महिलाओं की संस्था एसोसिएशन आफ लेडिज गेट-2 गेदर की अध्यक्षा सिसली कोडियान एवं उर्वी विक्रम चेरिटेबल ट्रस्ट के अध्यक्ष एवं पूर्व संयुक्त निदेशक पुलिस डा. यू.एन.वी.राव ने कहा की भाई भरत कुमार ने द्वारका उपनगरी में इस कार्यक्रम आयोजित कर यह साबित कर दिया है कि समाज में अच्छे लोंगो की कमी नहीं है परन्तु धन के अभाव में इनका लक्ष्य अधूरा रह जाता है। आज जो लोग ड्रग्स के साथ-साथ विभिन्न प्रकार के नशा का सेवन करने वाले व्यक्ति श्री ज्ञान गंगोत्री विकास संस्था एन.जी.ओ. के प्रचार-प्रसार के असर इनके उपर पड़ा है। मैं ओ.एन.जी.सी. एवं एन.टी.पी.सी.के पदाधिकारियों से भविष्य में इस संस्था को अनुदानित करने का अनुरोध करूगां। सिसली कोडियान ने कहा कि जो महिलाएं अपने काम में लगी रहती है वे इस कार्यक्रम में सुबह-सुबह अपना समय दिया है मैं इनको धन्यवाद देती हूँ। द्वारका सिनियर सिटिजन एसोसिएशन के अध्यक्ष एस.पी.राय एवं महासचिव एस.पी.रस्तोगी ने सैकड़ों नागरिकों के साथ इस कार्यक्रम में भाग लिया और बताया कि श्री ज्ञान गंगोत्री विकास संस्था एक मात्र एन.जी.ओ. ऐसी है जो लग्न और हिम्मत के साथ द्वारका में इस तरह के कार्यक्रम आयोजित किया है।

संस्था के कानूनी सलाहकार एवं बिहार सरकार के वरिष्ठ अधिवक्ता श्री ललन तिवारी ने कहा कि मैं ओ.एन.जी.सी. एवं एन.टी.पी.सी. को धन्यवाद देता हूँ कि संस्था के निवदेन पर विचार किया एवं इस तरह का कार्यक्रम कराने के लिए अपना सहयोग संस्था को दिया।

श्री ज्ञान गंगोत्री विकास संस्था ने विश्व नशा मुक्ति जागरूकता कार्यक्रम से पूर्व क्षेत्र में लड़कियों व स्कूली बच्चों के द्वारा एक विशाल नशा मुक्ति रैली निकाली गई। यह रैली मधु विहार, राजापुरी, भरत विहार, मटियाला ज.जे.कलोनी से सेक्टर-4, 5, 11 व 12 होते हुए सेक्टर-12 मेट्रो स्टेशन पर पहुचते ही लोगों तालियों की गडगडाहट से इनका स्वागत किया। इस रैली में बच्चों ने ओ. एन. जी. सी. एवं एन.टी.पी.सी. द्वारा प्रायोजित टी-शर्ट पहनी हुई थी, साथ ही बच्चों ने हाथों में नारे लगी हुई पट्टिकायें व बैनर लिए हुए थे। तक्खतियों पर लिखा हुआ था कन्या भ्रूण हत्या खत्म करो, लड़की पढ़ेगी, आगे बढ़ेगी, साक्षर होकर देश का नाम रौशन करेगी। लड़कियों की सुरक्षा हमारा कत्र्तव्य है। नशा नही यह मौत है इसे मत पीयो। जिसने पी दारू, वो हुआ बेकाबू। मदिरा नही पुस्तकालय चाहिए, हमें अच्छा परिवार चाहिए आदि स्लोगनों को लेकर ये बच्चे गली-गली यह संदेश दे रहे थे और इन बच्चों को घरों से निकल कर बुजुर्ग महिलाएं तथा वरिष्ठ नागरिक इन्हें अपना आशीर्वाद दे रहे थे।


बच्चों की इन भावनाओं से प्रेरित होकर नशा मुक्ति जागरूकता कार्यक्रम में जब प्रो. हंसराज सुमन से नशा मुक्ति पर अपने विचार रखे। उन्होंने संस्था के महासचिव से यह प्रस्ताव रखा कि अपने क्षेत्र में एक सर्वे करें जिसमें यह पता लगाया जाय कि कितने परिवार नशा से ग्रस्त हैं। साथ ही कितने परिवार ऐसे हैं जो पति-पत्नी के संबंधों को समझ नही सके और नशे के कारण अपने परिवार को छोड़कर जीवन तबाह कर लिया है। इतना कहना था कि लगभग 50 लोगों ने मंच पर आकर यह शपथ ली कि वे आज से जीवन पर्यान्त कभी भी नशे का सेवन नही करेंगे और अपने साथियों को सलाह देगें कि नशा करना एक सामाजिक अपराध है। इसके पश्चात कुछ महिलाओं ने अपने परिवार की आप बीती सुनायी। संस्था के महासचिव ने उन्हें आश्वासन दिया कि क्षेत्र में किसी भी प्रकार की नशे को बर्दाश्त नही किया जायेगा। यदि इस कार्य के लिए पुलिस व सरकार की मदद लेने में पीछे नही हटेंगे। अपने क्षेत्र को एक आदर्श नशा मुक्त क्षेत्र घोषित करा कर ही दम लेंगे।

संस्था के महासचिव श्री बी. के. सिंह ने कहा कि हमें क्षेत्र से पूरी तरह नशे को समाप्त करना है। इसमें हमें भाईयों के साथ-साथ माता-बहनों का भी साथ लेना होगा। यदि हमारी माता-बहने यह प्रण ले ले कि परिवार से नशे को समाप्त कराना है तो वे अपने पति भाई व बच्चों को नशे के दुश्परिणामों से बचाना होगा। उन्होंने कहा कि हमें दिल्ली को नशा मुक्त बनाना है। साथ ही हमें सुरक्षित दिल्ली बनाना है। तभी हम देश की भावी पीढ़ी को नशे से रोक पायेंगे।

कार्यक्रम में बच्चों ने नशा मुक्त से संबंधित एक नुक्कड़ नाटक भी प्रस्तुत किया। यह नाटक संदेश दे रहा था कि यदि नशे को शीघ्र ही नही रोका गया तो आने वाली पीढ़ी इस मीठे जहर से बच सकें। इसके अतिरिक्त संस्था के सलाहकार संतोष कुमार पटेल ने मद्य निषेध निदेशालय दिल्ली सरकार को सहयोग के लिए बधाई दिया और कहा कि इस क्षेत्र में ओ.एन.जी.सी. एवं एन.टी.पी.सी. के सहयोग से आयोजित कार्यक्रम बहुत ही सराहनीय रहा। अनेक वक्ताओं ने जिसमें संस्था के उपाध्यक्षा कुमारी रानी सिंह, श्री मदन मोहन विद्यार्थी, मेम्बर डी.सी.पी.सी. आर. समाजसेवी रिना, दिनेश कुमार, शिवनाथ यादव, लवली मिश्रा, नेहा कुमारी, अबदुल, ताहिरा, बबली, रामधनी गौतम, नन्हे सिंह और द्वारका उपनगरी से द्वारका परिचय, रडियों द्वारका, जागरण सिटी, साउथ-वेस्ट सिटी एवं दैनिक जागरण पश्चिमी दिल्ली के वरिष्ठ पत्रकार गौतम मिश्रा जी ने कार्यक्रम में भाग लिया। संस्था समस्त द्वाकरा निवासी को धन्यवाद देती है।
                                     

Thursday, June 27, 2013

Great T.V. Journalist S.P.Singh remembered during Media Conclave-2013

(Photo: Akshansh Dogra)
Media Conclave -2013 was organized by Media Khabar, India's First Bilingual Media Website in association with "Sunayna Communications Pvt. Ltd."

(Photo: Akshansh Dogra)
Media and Politics (टीवी संसद : कितनी खबर,कितनी राजनीति?),Challenges of new & upcoming channels. (नए चैनलों की चुनौतियाँ) The Challenges Of Upcoming & New T.V. Channels in India topic were discussed by prominent T.V. Journalists like Rahul Dev (Eminent Journalist), Qamar Wahid Naqvi (Eminent Journalist), Shailesh (CEO, News Nation), Raj Babbar (Actor and MP), Satish K Singh (Channel Head, Live India) Sanjay Salil (Managing Director, Media Guru), Urmilesh (Eminent Journalist), Anuranjan Jha (MD, Shagun TV), Nishant Chaturvedi (Channel Head, News Express), Syed Sibtey Razi (Ex. Governor, jharkhand), Manik rao (Minister, Social Justice & Empowerment-Govt.of india), Shazia Ilmi, Dr. Vartika Nanda, Sudhansu Ranjan (DD), Kumar Sanjoy, Anuradha Mandal etc. In the opening session of the conclave, the eminent T.V. journalist late Sh.Surender Pratap Singh was remembered for his valuable contribution towards T.V.journalism. A Bhojpuri Website , a Political Website & a book on S.P. Singh was also realded during the Conclave.

A tribute was paid on the occasion of his 16th death anniversary. Around 100 journalists took part in the said Conclave.

Sri VIS having Global Partnership with Ysgol Cynwyd Sant, Wales, UK


The schools came together for undertaking collaborative projects under UKIERI –United Kingdom and India Educational Initiative 2008-11, International School Award Partnership 2011-12 and the Connecting Classroom GSP or Global School Partnership 2012-13.

Ms Nita Arora Principal, Sri VIS, Secotr-18, Dwarka and Ms Renuka Chander GSP Coordinator are on an exchange visit at Ysgol Sant Cynwyd. A week of learning and sharing in two schools of Wales followed by visiting London, Scotland and Moscow has marks the visit.

They have left a lasting impression on the psyche of Welsh Schools that they visited through the sharing of projects done by the Sri VIS community. They also took classes in Storytelling, Science, Indian Dance, Art and cooking.

Ms Tegwen Ellis, the Head Teacher along with the Deputy Head Ms Rebecca Morgan and the Activity In charge Ms Rhian Cornish had earlier visited Sri VIS in the month of Feb 2013 and a lot of collaborative learning took place.

Interconnected world, sharing of educational technology, purposeful innovation defines the British Council ongoing Global School Partnership that these two schools share for more than last four years.

(Ms.Nita Arora-Principal of Sri Venkateshwar International School, Sec.18, Dwarka has sent an Exclusive report for Dwarka Parichay from her Europeon visit. Presently, she is in Europe but regularly in touch with our Managing Editor Mr.S.S.Dogra & she conveyed her blessing through Facebook for 1st Dwarka Topper Students Award-2013.)

Wednesday, June 26, 2013

5th Media Khabar’s Media Conclave & S P Singh Smriti Samaroh



Date- 27 June, 2013    Time : 1.00 PM Onwards
Location : India International Centre, Multipurpose Hall ( 40,Max Mueller Marg, Lodhi Estate,New Delhi – 110003 (Nearest Metro Station ‘Jor Bagh’)

Speakers : Rahul Dev (Eminent Journalist), Qamar Wahid Naqvi (Eminent Journalist), Shailesh (CEO, News Nation), Raj Babbar (Actor and MP), Satish K Singh (Channel Head, Live India) Sanjay Salil (Managing Director, Media Guru), Urmilesh (Eminent Journalist), Anuranjan Jha (MD, Shagun TV), Nishant Chaturvedi (Channel Head, News Express), Syed Sibtey Razi (Ex. Governor, jharkhand), Manik rao (Minister, Social Justice & Empowerment-Govt.of india), Shazia Ilmi, Dr. Vartika Nanda, Sudhansu Ranjan (DD), Kumar Sanjoy, Anuradha Mandal, Sayema Sehar

About S P Singh : R Anuradha
Moderator : Vineet Kumar & Prabhakar

Topic
1. Media and Politics (टीवी संसद : कितनी खबर,कितनी राजनीति?)
2. Challenges of new & upcoming channels. (नए चैनलों की चुनौतियाँ)
3. Launching : Bhojpuri Website & Political Website & book on SP

Organizer : Media Khabar (www.mediakhabar.com) & Sunayna Communications Pvt. Ltd

“कलाकार विरेन्द्र कुमार की पेंटिंग प्रर्दशनी”


प्रेमबाबू शर्मा

कलाकार विरेन्द्र कुमार के द्वारा बनाई गई पेंटिंग  की प्रदर्शनी का आयोजन त्रिवेणी कला संगम तानसेन मार्ग दिल्ली में किया गया। जिसका उद्घाटन कला समीक्षक केशव मालिक ने किया। इस अवसर पर कलाकार विरेन्द्र कुमार ने बताया कि उनका रुझान बचपन से ही कला के प्रति रहा इसी क्षेत्र में पढ़ाई पूरी करने के बाद कला को ही अपना मिशन बनाया बिहार से लेकर देश विदेश में मेरे कई शो हो चुके है, इन्होने बताया कि कला एक उन्नत यात्रा है इसमें जितनी गहराई में जाओं उतना ही कम पड़ता है इस प्रदर्शनी में प्रदर्शित लगभग सभी पेंटिंग में रात्रि की रोशनी को दर्शाया गया। चाहे शहरी इमारतों की रोशनी हो या पहाड़ो कि रात की रोशनी का अपना अलग अंदाज है। यह मन को भाती है। इनका मानना है कि रात्री की रोशनी व्यक्ति को नई राह दिखाती है। जीवन को प्रेरित करती है। इस विषय पर मैनें शहर दर शहर रातों में धुम धुम कर अध्ययन किया है। जोकिं कैनवास पर उकेरा गया है। प्रदर्शनी में तीस से ज्यादा पेंटिंग प्रदर्शित की गई है। प्रदर्शनी 10 जुलाई तक चलेगी।

अब बदलेगी बदहाल जोहड़ की तस्वीर


ग्राम विकास एसोसिएशन गाँव शाहाबाद मोहम्मद पुर के अथाह प्रयास  से गाँव के जोहड़ का विकास कार्य आज शुरू हो गया है. यह जोहड़ दिल्ली के उन बदहाल जोहड़ में से था जो सरकारी उपेक्षा का शिकार था . स्थानीय विधायक के मना करने के बाद आर डब्लू ए अध्यक्ष नरेश लाम्बा और सचिव नरेश भारल दुवारा इस जोहड़ का काम भागीदारी से करवाने की योजना बनायीं और जुलाई २ ० १ १ में इसके लिए एस डी एम को प्रपोजल दिया गया . कई सरकारी अड्चानो को पार करते हुए आखिर में दो साल बाद इसका कार्य शुरू हो सका .अब इस जोहड़ के लिए सोलह लाख अस्सी हजार रुपए मंजूर हुए हैं इसका काम बाढ़ नियंत्रण एवं सिचाई विभाग दिल्ली सरकार करेगा . इस काम को मंजूर करवाने में एस डी एम श्री अलोक शर्मा तथा दिल्ली वाटर बॉडी के सदस्य सचिव डॉ ० सुखदेव सिंह का काफी योगदान रहा . इसके आज के कार्यकर्म में उनको गाँव की और से पगड़ी बांधकर सम्मानित किया गया . 


गाँव के जोहड़ पर आज पारंपरिक रूप से यज्ञ करवाया गया और जोहड़ में पानी के लिए गाँव वासियों दुवारा प्रार्थना की गयी . भागीदारी के प्रतिनिधि के तौर पर उपस्थित दिल्ली कैंट के तहसीलदार श्री सतबीर सिंह शर्मा जी को गाँव की और से श्री किशन चंद लाम्बा ने पगड़ी बंधकर उनका आभार प्रकट किया . श्री सतबीर जी ने गाँव के वोक्स में भागीदारी के आलावा भी हर प्रकार से सहयोग करने का आश्वाशन दिया . गाँव के बुजुर्ग श्री ब्रम्हा लाम्बा , सरदारे खान , राय सिंह सोलंकी , किरपा प्रजापति के साथ तहसीलदार श्री शर्मा जी ने नारियल तोड़ कर जोहड़ के काम का शुभारम्भ किया . श्री नरेश लाम्बा ने गाँव वासियों को बताया की इस जोहड़ के आलावा गाँव की वर्षो पुराणी मांग गाँव के शमशान पर किसी भी प्रकार का पानी इंतजाम न होना भी पूरी हो गयी हैं शमशान पर भी भागीदारी दुवारा हैण्ड पंप लगाया जायेगा जिसका काम भी इस सप्ताह शुरू हो जायेगा . डा सुख देव सिंह जी ने गाँव की लोगो को जोहड़ के काम की बधाईया देते हुए कहा की जोहड़ गाँव की सुख समृधि की पहचान होती हैं शहरो में तो अब कच्ची जमीन बहुत कम रह गयी हैं जिस कारण पानी जमीं में नहीं जा रहा हैं आपके दुवारा किया गया जोहड़ का विकास कार्य बहुत ही सराहनीय हैं . इसके किनारों पर आप जामुन , नीम , आदि के पेड़ लगायें हम आपको पेड़ गाँव में ही निशुल्क देंगे . इस अवसर पर आर डब्लू ए के पदाधिकारियों के आलावा श्री रामफल दहिया , सहदेव सोलंकी , श्री कृषण दत्त , लक्ष्मन तंवर , भगवान सिंह सैनी , गाँव पालम से मास्टर हरिओम गुप्ता , गाँव समालका से श्री सतनारायण शर्मा सहित गाँव के काफी संख्या में लोग उपस्थित थे.

Tuesday, June 25, 2013

BSES waiting for an accident? - Electric pole resting on Neem Tree Dangerously since 20 days...



Is BSES waiting for an accident? - Electric pole resting on Neem Tree Dangerously since 20 days...in front of ICON School, Sector-6, Palam Najafgarh Road.  (Photo: S.K. MALIK )

Exclusive interview of Kirti Kale - National reputed poetess


हिमालय में जल-प्रलय

अशोक लव  

पंद्रह-सोलह जून की वर्षा ने उत्तराखंड में जो विनाश-लीला की है, उसमें हजारों व्यक्ति अपने प्राण गँवा चुके हैं. सैंकडों घर नदियों में बह गए हैं. गाँवों के गाँवों का कोई आता-पता नहीं है. ज़िंदगी और मौत के बीच संघर्ष करते हज़ारों लोग पहाड़ों के अनजान रास्तों में फंसे पड़े हैं. हज़ारों पहाड़ों में भटक रहे हैं. मृत्यु का ऐसा तांडव अपने पीछे अनेक प्रश्न छोड़ गया है.

संकट की इस घड़ी में स्वयं-सेवी संस्थाओं को आगे आना चाहिए. विस्थापित हो चुके लोगों को फिर से बसाने के लिए, सड़कों के निर्माण के लिए, संचार माध्यमों की बहाली के लिए, अपार धनराशि की आवश्यकता होगी. गावों और नगरों में जो विनाश-लीला हुई उसके लिए स्वयंसेवी संस्थाओं के कार्यकर्ताओं द्वारा सेवा की आवश्कता होगी. सड़कों के निर्माण के पश्चात यह सबसे बड़ा कार्य होगा. अभी भी इस विनाश-लीला का आकलन नहीं हो पाया है.

विभिन्न नगरों की संस्थाओं को आगे आकर विस्थापितों तक भोजन और पानी पहुँचाना सबसे बड़ी आवश्कता बन चुकी है. भूखे-प्यासे स्थानीय निवासी सड़कों पर उतर आए हैं. पर्यटकों की समस्याएँ स्थानीय निवासियों से भिन्न हैं. उनकी ओर भी तत्काल ध्यान देने की आवश्यकता है. सारी उम्र की कमाई से बनाए माकन ज़मीन में धंस गए हैं. कई टनों मलबे के नीचे दब गए हैं. कुछ मकानों में मलबा भर गया है. अनेक लोगों की दुकानें बह गई हैं. कईयों की आजीविका के साधन नहीं रहे. ऐसी भयावह स्थिति में मानवीयता की कारुणिक पुकार को सुनने की आवश्यकता है.

केदारनाथ धाम के पुनरोत्थान के लिए भी धार्मिक संस्थाओं को आगे आना चाहिए. वे धार्मिक संस्थाएं जो मदिरों के लिए अपार धनराशि दान में लेती हैं, उन्हें आगे आना चाहिए.

इस विनाश-लीला के लिए पहाड़ों पर अनेक कारणों से बढ़ता बोझ है. तीर्थ-स्थल पिकनिक–स्पॉट बन गए हैं. पहाड़ों का दोहन हो रहा है. पर्वतीय पर्यावरण की सुरक्षा की कोई नीति नहीं है. अवैध खनन और अवैध निर्माण ने पर्यावरण के संतुलन को बिगाड़ दिया है. ये वे मुद्दे हैं जिन पर अभी से चिंतन और क्रियान्वयन की आवयश्कता है. तत्काल आवश्यकता है लोगों की जान बचाने की और उन तक भोजन पहुँचाने की. आशा है संकट की घड़ी में दानी सज्जन आगे आएँगे और अपना कर्तव्य निभायेंगे.

Rajan Verma awarded with Shiv Rajmudra Chatrapati and Press Media Awards


Abhishek Dubey

Bollywood actor Rajan Verma awarded with Shiv Rajmudra Chatrapati Awards for his excellent work in Zindagi 50:50. Where he played a common man character Birju an auto rickshaw puller and Rupa's (Supriya Kumari) husband, He works at night time to earn extra money. His character was appreciated by people and critics. Rajan Verma graciously accepted the award. He received 2 awards in 3 days including Press Media award for the best actor.

Rajan Verma Said, “I feel extremely humbled when I was awarded the Shiv Rajmudra Chatrapati Awards and Press Media Award. It was overwhelming that people love my work and they appreciate it.”

Monday, June 24, 2013

Delhi BJP sets up agenda for higher education under “Delhi Declaration 2013”


Delhi BJP’s report on higher education proposes relaxation in cut off marks for Delhi students

Extend reach of prestigious DU colleges to other states, better hostel facilities for students outside Delhi

BJP will ensure affordable and world class education for all Delhi students in the city: Goel

The Delhi Bharatiya Janata Party today released special report on “State of Higher Education” in Delhi as a part of “Delhi Declaration 2013.” The report explains the deteriorating state of affairs in the field of higher education and enlists the corrective steps proposed to be taken by the BJP when it comes to power in Delhi.

After releasing the report, the Delhi BJP President Shri Vijay Goel outlined the key features of the Delhi BJP’s agenda for “Higher Education in Delhi.” “We suggest a provision of a 2 to 4 per cent relaxation in cut off marks in admission to undergraduate courses in Delhi University for all the students passing out class XII from any of the Delhi schools. This would be applicable to all the students passing out from Delhi schools whether their families are domiciles of Delhi or not. This can be implemented immediately in atleast Delhi government’s colleges in DU.”

“The objective of this proposed measure is to provide relief to lakhs of parents in Delhi whose wards do not get admission in DU and are forced to go to other states to study often paying exorbitant fees in private colleges and staying in unsafe conditions in private accommodations.”

The report also suggests providing more hostel accommodations for students coming from outside Delhi in DU as a large number of them are being compelled to stay in unsafe private accommodations paying high rents.

The report also suggests that to reduce the pressure of students applying from other states in DU, prestigious institutions like SRCC, St. Stephens College, LSR College, Hindu College and many other such colleges can open their branches in neighboring states. This would allow many students from other states to study in these prestigious institutions in their own states. It will reduce the number of applicants in DU from other states and hence provide more opportunities to Delhi students to study in their own city.

With around 2 lakh students passing out their class XII examinations from Delhi every year, the opportunities for affordable higher education for students in the Capital have come under severe strain as the number of seats offered for various undergraduate courses have remained stagnant for many years owing to lack of any initiative on the part of Congress government in Delhi.

There are 54000 undergrduate seats in DU. With the Delhi government not opening any new college over the last 15 years and over a lakh students applying from other states, the Delhi students are hardly able to get even 50 per cent of the seats in DU.

One of the immediate steps that would be initiated by the BJP when it comes to power in Delhi is to start evening classes in all the morning colleges in DU.

Shri Goel said, “The BJP also has plans to open a new online university in Delhi as online education is one of the fastest and most convenient ways of getting higher education world over. In addition we propose to link higher education with skill development to make education employment oriented. The BJP plans to bring prestigious institutions like Harvard Univeristy and LSE to Delhi. With such globally acknowledged institutions setting up campuses here, Delhi students won’t have to go abroad to study and they can get benefitted by world class education in the city itself at affordable prices.”

Delhi has the potential of becoming a world class affordable hub for education. The BJP had set up the Directorate of Higher Education in 1997 when it was in power. It also set up the Guru Gobind Singh Indraprastha University which is catering to thousands of students. However, the Congress government failed to capitalise on this momentum and completely neglected the field of higher education. This is evident from the fact that the option of getting admission in a good college and a studying a course of one’s choice is not available to most of the students in Delhi.

The Delhi BJP leadership strongly believes that a strong political will, right intention and innovative solutions are required to set the things right. But the current Congress government lacks all three. Fourteen and a half years is a long time for any government to deliver and Congress government has failed miserably in this regard.

“Higher Education” is one of the top priorities for the BJP. In a unique initiative, the party had launched admission helpline for DU applicants in first week of June. It also distributed more than 25000 admission information booklets free of cots to students and their parents for DU admission through student help centers set up by its youth wing across the city over the last four weeks. More than 10,000 students have been helped by BJP’s DU admission helpline so far. The helpline, which was started on 5 June, will continue till 30 June.

Courtesy:BJP Delhi (Photo:Joginder Dogra)

Poor Condition Of Roads & Drainage System in Block-B Sector-8, Dwarka.



The Vice Chairman ,
DDA, New Delhi.

Photographs of B Block of Sect-8 , that looks like a water body in the first Rain of this season..
Also see the pot Holes filled with water , after few showers of rain, in the internal roads.

The issue has been raised to The Ex. Engineer WD-8 , number of times but NO RESULT.
In the absence of proper drainage the premixing of Roads done recently on 13 meter Roads , will also be damaged , for which FIX the responsibilities of the concerned officers waisting the Public Money.

If some immediate solution is not Found for Drainage and RECARPETTING of Internal Roads of B Block , The matter will be resolved , through filing a PIL in Houn;ble High Court , for such type of negligent Services.

Citizen;s Reporter: Purshotam Behl
Email: pbehl69@yahoo.in

Uttarakhand floods: Sonia Gandhi flags off relief mission


Congress president Sonia Gandhi and party vice president Rahul Gandhi on Monday flagged off relief material for the victims of flash floods in Uttarakhand.

Top Congress leaders were present at the AICC headquarters where Gandhi and her son Rahul flagged off 24 truckloads of relief supplies in addition to the 125 trucks already sent to Dehradun.

Besides the Gandhis, leaders present on the occasion included Delhi Chief Minister Sheila Dikshit, Finance Minister P Chidambaram, Road Transport Minister Oscar Fernandes and, political secretary to Congress President Ahmed Patel, AICC General Secretaries Ambika Soni and Ajay Maken. This was Rahul Gandhi's first appearance since the natural calamity struck Uttarkhand as he was abroad.

ICC treasurer Motilal Vora and AICC general secretary and in-charge of Congress President's Office Ambika Soni had visited Uttarakhand to oversee relief operations and coordinate with state Congress units which have been sending relief materials.

Congress has set up a control room at Dehradun to accelerate the relief work. AICC Secretary Sanjay Kapoor and the party's wing Seva Dal's chief Mahendra Joshi have already been sent to Dehradun to monitor the work.

Courtesy:PTI (Photo:Joginder Dogra)

FREE EYE CHECK UP CAMP ON 30th June

Pahal social organisation(Regd) organising a free eye camp with the association of Centre for Sight, Dwarka.

Date: 30th June (Sunday)
Time: 10 AM onward.
Venue-Gani Nath Nikunj, Plot No-1, Sector-5, Dwarka

For detail, please contact:
M.K.CHAKRABORTY - 9717394245
PRESIDENT,PAHAL SOCIAL ORGANISATION(REGD)


SGGVS organizing De-addiction awareness programme on 26th June




Shri Gyan Gangotri Vikas Sanstha is a NGO registered Under Society ACT. On 26.06.2013, SGGVS is going to organize an awareness programme in association with ONGC, NTPC, IAMS and Directorate on the occasion of International De-addiction Day i.e 26-06-2013.

As a matter of fact, this society, this Society has made several people de- addicted from usage of wine/liquor, Cigarette, Bide, Tobacco and most dangers ‘GUTAKAA’. This initiative has encouraged 50 to 100 people de-addicted each year.

The programme will start in morning from 6.30 a.m. (Wednesday) on 26.06.2013, as a valley (RALLY) from RAJAPURI, RED LIGHT, MADHU VIHAR. The Rally will congregate there and at sector-12, Dwarka it will reach where a cultural programme will Start.

It is worth mentioning here that A RAAIN BASERA Situated at Sector-12, Dwarka Metro Station is run by SGGVS the reshow puller residing in this RAAIN BASERA are determined and declared to give up usage of Drugs and other PAN Gutkka wine & been etc before the large crowed on that day. Indeed, it will signed a large positive message to the society.

On the occasion, the chief. Guests of this programme are Hon’ble Sh. B.K.Gupta ji, G.M.(civil), ONGC, Sh. Ambrish Kumar, under Secretary, Min. of petroleum and Natural Gas.

Interview of Dr. U.N.B. Rao at Dwarka Parichay newspaper



Subscribe to get regular Dwarka Parichay e-paper

Sunday, June 23, 2013

‘घनचक्कर’ मेरी पहली कॉमेडी फिल्म है: विद्या बालन


प्रेमबाबू शर्मा 

‘नो वन किल्ड जेसिका’, ‘डर्टी पिक्चर’ और ‘कहानी’ जैसी महिला प्रधान फिल्मों के साथ विद्या बालन ने अपने अभिनय को इस कदर संवार लिया है कि वह हर किरदार में फिट ही नहीं होतीं, हिट भी होती हैं। यह उनका जलवा ही है कि वह इस साल अलग-अलग फिल्म अवार्ड्स फंक्शन में छाई रहीं। विद्या अब अपनी अपकमिंग फिल्म ‘घनचक्कर’ को लेकर चर्चा में हैं। साथ ही उनके खाते में एक और बड़ी उपलब्धि जुड़ी है, उन्हें कान फिल्म फेस्टिवल में जूरी में शामिल किया गया। इन दिनों विद्या के हौसले बुलंद हैं। पेश है, विद्या बालन से हुई लंबी बातचीत के प्रमुख अंश।

सबसे पहले अपनी अपकमिंग फिल्म ‘घनचक्कर’ के बारे में बताइए?
‘घनचक्कर’ यह एक कॉमेडी फिल्म है जो 28 जून को रिलीज होगी। राजकुमार गुप्ता के डायरेक्शन में बनी है। इस फिल्म में मैं और इमरान हाशमी लीड रोल में हैं।

फिल्म में आने रोल क बारे में बताएं ?
इस फिल्म में मैं इमरान की बीवी बनी हूं, जो पंजाब की तेजतर्रार लड़की है। फिल्म में इमरान का नाम संजू है। वह दो ठगों के चक्कर में फंस जाता है और फिर शुरू होता है उनका घनचक्कर।

पहली बार कॉमेडी करने का एक्सपीरियंस कैसा रहा?
‘घनचक्कर’ मेरी पहली कॉमेडी फिल्म है। फिल्म में काम करने का अच्छा एक्सपीरियंस रहा। फिल्म में मैं काम करके काफी खुश हूं। लेकिन मुझे डर भी है कि पता नहीं अपने दर्शकों को हंसा पाऊंगी या नहीं। लोगों को हंसाना टेढ़ी खीर है। वैसे इस फिल्म ने अपने प्रोमो में ही बहुत तारीफ बटोरी है।

‘घनचक्कर’ में भी आप हॉट नजर आएंगी?
हॉट तो मैं ‘डर्टी पिक्चर’ में थी, लेकिन ‘घनचक्कर’ का केस उससे अलग है। ‘घनचक्कर’ में मैंने साड़ी को बॉय कर दिया है। दरअसल, इस फिल्म में मैं पंजाबी हाउस वाइफ के रोल में हूं, सो इस रोल को अच्छे से निभाने के लिए मैं फिल्म में हैरम सलवार, टी-शर्ट और रबर सैंडल पहने नजर आऊंगी। इसमे मैं एक टिपिकल हाउस वाइ हूं, जिसका सपना हर महिला की तरह यही है कि उसका पति उसे यूरोप घुमाने ले जाए।


आपकी ‘नो वन किल्ड जेसिका’, ‘डर्टी पिक्चर’ और ‘कहानी’ जैसी महिला प्रधान फिल्में हिट रहीं। इस पर क्या कहेंगी?
दरअसल, बॉलीवुड में एक शोर किया गया है कि यहां महिला प्रधान फिल्में नहीं चलतीं, जबकि मेरी फिल्मों ने सबको चुप करा दिया। मैंने तो हिट की हैट्रिक भी लगाई। हालांकि मुझसे पहले भी कई एक्ट्रेसेस ने इस धारणा को तोड़ा है। अब लोगों की पसंद बदली है। लोग फिर से स्क्रिप्ट और किरदारों को तवज्जो दे रहे हैं। हमें इस नए चलन का स्वागत करना चाहिए।

कहीं ऐसा तो नहीं कि आपकी फीमेल ओरिएंटेड फिल्में हिट होने की वजह से आपके पास इसी टाइप की फिल्में आ रही हैं?
हो सकता है कि आप सही कह रहे हों, लेकिन मैंने कभी अपने को किसी तरह के दायरे में नहीं रखा। ऐसा नहीं है कि मैं सिर्फ महिला प्रधान फिल्मों में ही काम करूंगी। अगर मेरे पास अच्छी फिल्में आती हैं, जो हीरो ओरिएंटेड हैं और उनमें मेरे लिए भी कुछ करने को है, तो मैं उन्हें जरूर करूंगी।

ALL LAW-ABIDING HUMANS WANT TO BE TRUE FRIENDS OF THOSE POLICE OFFICERS & PERSONNEL WHO ARE TRUE HUMANS

 -- FOR THAT UNDERSTANDING THE MEANING OF TRUE FRIENDSHIP IS A MUST.

Rajendra Dhar
POLICE WATCH INDIA (Regd. NGO)
“True friendship is like sound health, the value of it is seldom known until it is lost."

"A real friend is one who walks in when the rest of the world walks out."

"Don't walk in front of me, I may not follow. Don't walk behind me, I may not lead. Walk beside me and be my friend.”

"Friendship is one mind in two bodies."

"If all my friends were to jump off a bridge, I wouldn't jump with them, I would be at the bottom to catch them."

"Everyone hears what you say. Friends listen to what you say. Best friends listen to what you don't say."

"We all take different paths in life, but no matter where we go, we take a little of each other everywhere."

"Many people will walk in and out of your life, but only true friends will leave footprints in your heart."

"SURROUND YOURSELF ONLY WITH PEOPLE WHO ARE GOING TO LIFT YOU HIGHER."

“If you have one true friend, you have more than your share.”

“When it hurts to look back, and you're scared to look ahead, you can look beside you and your best friend will be there.”

"True friends are together forever, never apart. May be apart in distance, but never in heart.”

"If I had one gift that I could give you, my friend, it would be the ability to see yourself as others see you, because only then would you know how extremely special you are."

"A true friend is someone who knows there's something wrong even when you have the biggest smile on your face."

“The best kind of friend is the kind you can sit on a porch and swing with, never say a word, and then walk away feeling like it was the best conversation you've ever had.”

"It is by chance we meet . . . By choice we became friends."

“Friends are those rare people who ask how you are and then wait to hear the answer”

“How lucky I am to have known someone who was so hard to say goodbye to”

"Walking with a friend in the dark is better than walking alone in the light."

"A circle is round it has no end, that's how long I want to be your friend!"

"It takes years to build up trust, and just fraction of a second to destroy it."

“One who spurns the hand of True Friendship for him there is nothing but misfortune.”

As regards POLICE WATCH INDIA & people associated with it ESPECIALLY OUR SILENT SUPPORTERS, we all are True Friends of ALL THOSE COPS, IRRESPECTIVE OF DESIGNATION, WHO ARE TRUE HUMANS FIRST & LAST AND THAT IN A NUTSHELL SUMS UP EVERYTHING.

“Hard work, blessings of my parents & well wishers are my inspiration.” Sunil Chetri


Recently, our Managing Editor S.S.Dogra spoke to Sunil Chetri-Captain of Indian Football team during a week long summer camp held at Ambedkar Stadium (from 16-23 June,2013), New Delhi for budding footballers. Let’s check it out what Chetri shared with him. Excerpts:
S.S.Dogra with Sunil Chetri-Captain of Indian Football team

What is the concept of this summer camp?
Actually, this camp is organized for the Two age group: I-12-14 & II-14-16 years.

How many children are taking part in it?
There are 70 boys & girls from different parts of Delhi & NCR are participating in it.

What is the aim of this camp?
Dogra ji, as you know that most probably India would be hosting U-17 football world cup in 2017. So, this is the preparation phase for that grand Football event.

 Who has brought this idea?
Letzplay & Delhi Soccor Association jointly introduced this unique concept for the development of this world fame game. 

What is your opinion about such camp?
This is really a positive initiative and I am lucky to be a part of it.

What are your inputs for this camp?
I am trying to bring out the hidden talents from these budding footballers. They are given useful guidance, fitness tips, skills, techniques, practice session and even boosting their moral by way of mixing with them. I am sharing my international exposure with them and they are also eager to learn the game in more serious & mature manner. 


What is the special feature of such camp?
The uniformity, the discipline, routine & practice session undertaken by the international players are the major feature of this camp. It can certainly change the life of budding footballers and encourage them to improve their game. Such camp may produce some good players for national and international level competition.

What is your favourite position?
I like to play as striker in the game.

What is your international exposure?
Apart from representing India, I have an experience to play in America and Lesban & learnt lot of new things there.

Who are your favourite footballers?
Of course, Ronaldo from Brazil and Massy are my role models in this game.

Any other sports person you like the most and why?
I am great fan of our legend cricketer Sachin Tendulkar. Last month, I met him in a function and there I got an opportunity to chat him, I found that Sachin has a great passion for the game like a young player. I really impressed with him the way he thinks & how seriously he takes his cricket game. In my opinion he is not only a great player of cricket but also a great human being. That’s make him great player. I have high respect for other players also like Sania Nehwal, Leander Paes, Sushil Kumar & Vijay Kumar.

Do you play any other game?
Yes. I like to play Table Tennis, badminton and Cricket also. I have great respect for almost all the games.

Which was the turning point of your life?
Actually, I started to play football when I was in VI class in Army Public School. But I got the golden opportunity when I was in 12th class in Mamta Modern School, Vikas Puri, there I got an offer from Mohan Bagan(Prominent football club in India) that was the turning point of my football career. At that time only, I realized that I have the potential to do something extra ordinary in this game and rest is the history.

Why Football is much much behind then Cricket?
Actually, some reasons are responsible for them. We don’t have sufficient football grounds in the country. The playing condition during noon time is yet another set back for the game.

What are remedy and suggestion to develop & make this game more popular in India.
The parents support, good coaches, disciplined life style, defined practice session, devotion, hard work, passion about the game, good club and media support can do wonder for the upliftment of this game. These important factors can bring glory & can create history in the Indian football arena. There is no other alternative at all.

How do you see the potential among the budding players?
Consistency, hard work, fitness, right efforts & planning etc. play very important role in player’s life. If you possess all these qualities then sky is the limit. With this passion only, you can achieve every thing in your life.

Who is the inspiration force behind your successful career?
Hard work, blessings of my parents & well wishers are my inspiration.


Saturday, June 22, 2013

No construction on two plots even after 28 years allotted for post office in Dwarka

Citizen's Reporter
M.K. Gupta
mkgupta1952@gmail.com

18 PLOTS WITH POSTAL DEPTT. AWAITING START OF CONSTRUCTION, SOME SINCE 82

On the one side, Deptt. of Posts is in acute shortage of space for staff quarters and on the other side, many plots in its possession since 1982 are vacant and no action on ground for the construction of building on these plots has been initiated. In reply to an RTI application, postal department has supplied a list of 18 plots which include two plots in its possession since 1985 one at Dwarka Sector 8 and the other at Naraina Community Centre. On Dwarka plot, except construction of boundary wall on this plot about two years ago, no construction has started even after 28 years though the post office has misrepresented in its reply that project is under consideration in 12th Five Year Plan. In Dwarka, the Department has another plot in Sector VI since 98 and the Deptt. has given an ambiguous reply that pre-construction formalities are in process even after 15 years after the allotment of this plot by the DDA though the plot is in the same condition as it was allotted. Other plot is with the post office since 1983-84 but no building has come up there so far as the project is also under consideration in 12th five year plan. Two other vacant plots for post offices are in Rohini Sec. V since 1986 and 87 without any building on them.

Letter from Chief Minister Delhi to Dwarka Parichay


मोहन गार्डन की मुख्य सड़कों पर ट्रेंचलैस प्रणाली से सीवर डाला जायेगा - मुकेश शर्मा।


दिल्ली की मुख्यमंत्री के संसदीय सचिव व कांग्रेस विधायक दल के प्रवक्ता वरिष्ठ विधायक श्री मुकेश शर्मा ने कहा है कि क्षेत्र के लोगों की ट्रैफिक जाम की समस्या को देखते हुए मोहन गार्डन क्षेत्र की सभी पाँच मुख्य सड़कों पर दिल्ली जल बोर्ड ट्रैंचलेस प्रणाली (भूमिगत) से मुख्य ट्रँक सीवर लाईन डालेगा। एल एण्ड टी कम्पनी को इसके लिए निर्देश दे दिए गए हैं। श्री मुकेश शर्मा आज मोहन गार्डन एन-ब्लाक के गुरूद्वारा रोड़ पर दिल्ली सरकार के  विभाग द्वारा मुख्य सड़क को सीमेंट कंकरीट से बनाए जाने के कार्य के शुभारम्भ के मौके पर आयोजित एक बड़ी सभा को सम्बोन्धित कर रहे थे। सभा की अध्यक्षता प्रदेश कांग्रेस सचिव श्री दीपक राठी ने की। सभा को सर्वश्री कर्मवीर कराहना, रामफल भारद्वाज, रामकरण राठी, प्रहलाद मलिक, सुरेन्द्र राव, राम सिंह बालोरिया एवं डी.एस.पी. सतबीर सिंह मलिक ने भी सम्बोन्धित किया।

श्री मुकेश शर्मा ने कहा कि मोहन गार्डन क्षेत्र के प्रताप इन्कलेव व समीपस्त कालोनियों में बिजली सप्लाई को पूरी तरह 24 घंटे के लिए सुनिश्चित करने की दिशा में ठैम् कम्पनी ने हस्तसाल स्थित ग्रिड से 6 नए फीडर डालने का काम युद्धस्तर पर शुरू कर रखा है। उन्होंने यह भी कहा कि इस महीने के अन्त तक ये सभी फीडर काम करना शुरू कर देगें। उन्होंने कहा कि हस्तसाल स्थिति कब्रिस्तान के सामने बनाए गए ग्रिड की भूमि पुराने हस्तसाल विधानसभा का ही हिस्सा है और इसके लिए बड़ी जदोजहद के बाद मैट्रो व डी.डी.ए. से लड़ाई लड़कर जमीन ली गई थी । उन्होंने कहा कि हस्तसाल ग्रिड मोहन गार्डन क्षेत्र की सभी कालोनियों की बिजली की समस्या को तुरन्त प्रभाव से समाप्त कर देगा। साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि बढ़ती हुई आबादी के दबाव व लोगों द्वारा खुले तौर पर बिजली के इस्तेमाल से बढ़ी खपत को ध्यान में रखते हुए भविष्य के प्रबन्ध भी किए जा रहे है। उन्होंने इस बात की भी कड़ी निन्दा की कि कुछ बिजली के पुराने तथाकथित डेसू के ठेकेदार जानबूझकर स्थानीय ट्राँसफार्मरों को बन्द कर देते हैं। उन्होंने चेतावनी दी कि ऐसे लोगों के खिलाफ सख्ती से कार्यवाही की जायेगी। उन्होंने यह भी कहा कि 80 गज ग्राम सभा में शीघ्र ही सीमेंट कंकरीट की सड़कें बनवाने का कार्य शुरू कर दिया जायेगा।

सभा में क्षेत्र की सभी आर.डब्ल्यू.ए. ने पारित एक प्रस्ताव में सर्वसम्मति से आगामी विधानसभा चुनाव में उत्तम नगर विधानसभा क्षेत्र से पाँचवीं बार श्री मुकेश शर्मा को समर्थन देने का ऐलान किया। प्रस्ताव में दिल्ली सरकार द्वारा सामाजिक क्षेत्र में किए जा रहे कार्यों की सराहना करते हुए यह भी कहा गया कि भा.ज.पा. शासित दिल्ली नगर निगम सफाई सम्बन्धी अपनी जिम्मेदारी को पूरा करने में नाकाम रही है। सभा में आर.डब्ल्यू.ए. के पदाधिकारी एवं सामाजिक कार्यकर्ता सर्वश्री महावीर चालिया, धर्मेन्द्र शर्मा, दीपक (रिंकू), गजेन्द्र सिंह (गज्जू), सुरेन्द्र राव, राजेन्द्र शर्मा, खेमचन्द प्रधान, मोहन झा, जिले सिंह झांगड़ा, ओमपाल बिसला, विक्की कौशिक, मास्टर गजेन्द्र, जितेन्द्र पाण्डे, अनिल मेहता, प्रदीप कालू, विजय तिवारी (प्रधान), श्रीमती लता, दयानन्द, श्रीभगवान, डाक्टर बी.के. शर्मा, मुकेश कुमार बंटी, सुभाष भारद्वाज, अजय शर्मा आदि प्रमुख रूप से मौजूद थे।

Immoral Earning Encourages Evil Activities

Pt. Shriram Sharma Acharya

The durability of success—not only in business but also in all fields of life—depends on working with a lot of effort, behaving in an honest and morally correct way and, maintaining truthfulness and integrity. Money earned by cheating may not last very long and may create various troubles in future, one way or another. 

Thieves, pickpockets, robbers, gamblers, etc. may make a fortune in no time but will hardly ever manage to make right use of their loot. Such earning by immoral means would ultimately end up encouraging the evil of careless spending and bad habits. Such immoral earning would also affect other family members in the household who may develop evil qualities, bad habits and bad character. Those who shy away from hard work and take up immoral way of earning easy money will also see their children becoming lazy, careless and work-shy; who may not be able to do anything worthwhile in their lives as they cannot appreciate the importance of working hard.

Thanks for your VISITs

 
How to Configure Numbered Page Navigation After installing, you might want to change these default settings: