Search & get (home delivered) HOT products @ Heavy discounts

Saturday, December 11, 2010

Entertainment meter - enjoy

प्रेमबाबू शर्मा


श्वेता गुलाटी बनी परी

छोटे परदे पर एक लंबे समय के बाद एक फिर से श्वेता गुलाटी की वापिसी पर हो रही है, सब टीवी एक नये शो गिल्ली गिल्ली गप्पा से। धारावाहिक रीमिक्स फेम रही ने अनेक धारावाहिकों में विविधा किरदारों का निभा चुकी हैं। श्वेता कहती है कि लंबे समय के बाद ही सही लेकिन एक पावरफुल किरदारो को पाकर वह बहुत खुश हैं। गिल्ली गिल्ली गप्पा एक पिता और उसके बिन मां के बच्चों के रिश्ते की दिल को छू लेने वाली कहानी है। धारावाहिक में श्वेता गुलाटी एक परी के रोल में हैं। जो तीन शरारती बच्चों की मां बन कर उनको स्नेह ही नही करती बल्कि बच्चों के पिता विशु की भी करती है, लेकिन अपनी जल्दबाजी और जादुई शक्ति की गलतियों कारण सब उलटा पुलटा कर देती है।


****************************************************

अभिनय में दोहराव पंसद नही: मुस्कान मिहानी

सब टीवी के धारावाहिक जुगनी चली जलाधर में घूंघट में रहने वाली बहूं के किरदार से सुर्खियों में आने वाली अभिनेत्री मुस्कान मिहानी मानती है कि इस धारावाहिक के अंत में उसे पूरे परिवार द्वारा अपनाने के अचानक बंद होने का दुख आज तक हैं। खैर, मुस्कान इन दिनों फिर से सुर्खियों में है अपने एक नये शो रिंग रॉग रिंग के द्वारा। हालांकि इसे वे घर वापिसी जैसा मानती है।पिछले दिनों दिल्ली में उनसे मिलने का मौका मिला पेश है मुलाकात के चंद अंश:


सब चैनल पर पुनः वापिसी करते हुए कैसा महसूस कर रही है ?
शो रिंग रॉग रिंग मेरे लिए घर वापिसी जैसा है, क्योंकि सब टीवी जगुनी के लंबे समय के बाद में मेरी वापिसी हो रही है।

धारावाहिक में किस तरह का किरदार है ?
गृहिणी मानसी के किरदार में हूं। जिसका पति विजय सत्तर के दशक की यादों को जीने वाला इंसान है। मैं पति की मदद करना चाहती हूं। लेकिन हो जाता है सब उल्टा पुल्टा।

आपका मतलब समझ नहीं आया ?
दरअसल, मानसी के पास एक जादुई अंगुठी है जो उसके ससुर बाबूजी (राकेश बेदी ) ने दी है। मानसी इसका इस्तेमाल अच्छे कार्यों के लिये करती है, लेकिन अंगूठी अपनी मर्जी से चलना पसंद करती है और उससे अजीब परिणाम मिलते हैं, इस कारण से हास्य परिस्थितियां बन पैदा हो जाती है।

उसका मतलब यह एक जादुई कॉमेडी है?
जी हां, आपने शरारत, सोनपरी धारावाहिक देखे होगें यह भी लगभग उसी प्रकार का धारावाहिक है।

आपने सब टीवी पर जुगनी किरदार को बखूबी से निभाया मगर सीरियल का अचानक बंद किये जाने पर आपने चैनल पर आरोप भी लगाये थे ?
नहीं ऐसा नही है, जब जुगनी को पूरा परिवार बहु के रूप में स्वीकार लेता है उसके बाद कहानी में बचता ही नहीं था, और बंद हो गया। हा, एक लंबे समय तक जुगनी के सेट सभी कलाकारों एक परिवार की तरह रहने के बाद उनके बिछडने का दर्द की टीस जरूर रही। लेकिन मैंने कभी भी किसी प्रकार का आरोप चैनल पर कभी नहीं लगाया। अगर ऐसा होता तो चैनल मुझे दुबारा मौका कभी नही देता।

आप अपने शुरूआती सीरियलों को लेकर क्या सोचती है?
अभिनय की शुरूआत सोनी चैनल धारावाहिक ये मेरी लाईफ है में मेढी नामक बातूनी लडकी के किरदार से की। सीरीयल में मेरे किरदार को पंसद भी किया गया। इसके बाद में सहारा धारावाहिक ‘जिंदगी तेरी मेरी कहानी,’ में काम किया। स्टारवन धारावाहिक ‘दिल मिल गये ’ में लीक से हटकर स्टार डा. सपना का किरदार निभाने का मौका। कुल मिला अभी तक का सफर अच्छा रहा हैं।

अगर देखा जाये तो सही मायने में आपको पहचान तो दिल मिल गये धारावाहिक से ही मिली थी ?
आप ऐसा कह सकते है,कारण यह मेरे दोनों ही धारावाहिक कह लीक से हटकर एक अलग प्रकार किरदार था। जो मेडिकल साईस स्टुडेंट बंेसड धारावाहिक था। सपना जैसे दोहरी जिंदगीं जीने जैसा किरदार को मैं आज भी एक चुनौती ही मानती हूं।

पहले सपना फिर जुगनी और अब मानसी क्या अंतर तीनो किरदारों में ?
स्टार वन सपना एक अलग प्रकार में किरदार था जो जुगनी और मानसी की तुलना में काफी कठिन था। लेकिन अब मानसी किरदार के द्वारा जुगनी घुघट से जरूर बाहर आ चुकी है। आपको एक बात और बता दू कि मुझे भूमिकाओं का दोहराव पंसद नही है।

Thanks for your VISITs

 
How to Configure Numbered Page Navigation After installing, you might want to change these default settings: