Search & get (home delivered) HOT products @ Heavy discounts

Tuesday, December 14, 2010

ना आना इस देस लाडो - नए मोड़

प्रेमबाबू शर्मा 


 सिमरन अब कलर्स चैनल सीरियल ना आना इस देस लाडो ...एक नए किरदार के रूप में नजर आएगी.... अखिर कौन है सिमरन? ये वहीं सिमरन है कुछ साल पूर्व में स्टार वन धारावाहिक ‘लव ने मिला दी जोडी ’ में रोशनी के किरदार में नजर आई थी। इन दिनों  फिर सुर्खियों में लाडों को लेकर। धारावाहिक में अपने रोल के बारे में बताती है कि मैं राघव और सिया की युवा बेटी के किरदार को निभा रही हूं। जो अंतर्मुखी किन्तु दब्बू प्रवृति की युवती है। चुंकी, मैं अम्मा जी के साथ रहती हूं और उनके नेचर से वाफिक हूं। उसके आगे डरी सहमी सी रहती है और अम्माजी का मेरे साथ दुव्यवहार करना एक आम बात है। मुंबई में पली बढी सिमरन के परिवार का संबध अमृतसर से है। उसकी बातों पंजाब की मिटटी की  महक साफ झलकती है। मीडिया में स्नातक सिमरन ने अपनी करियर बतौर माडल नोकिया, क्लीयरसिल, फ्रूटी, नैरकैफे.......सहित दर्जन विज्ञापनों में काम किया। लाडो से जुडने के बारे में उनका कहना था कि जब मुझे इस रोल का ऑफर मिला तो बिना देरी करे मैंने तुंरत हां कर दी।

***********************************************
कलर्स चैनल सीरियल ना आना इस देस लाडो की कहानी अब नए मोड़ आने वाला है। आखिर यह मोड क्या होगा? क्या कहानी के इस फेरबदल से सीरियल को लाभ होगा। यह तो समय ही बताएगा। कलाकारों की जमात दिल्ली में कहानी के विस्तार के बारे में जाने देने के मकसद से आयी थी। गौरतलब है कि अब दर्शकों को सीरियल में वे कलाकार फिर से दिखाई देंगे जिन्हें वे भूल चुके हैं। ऐसी ही एक कलाकार हैं शिखा सिंह, जो डाकू अंबा अम्माजी के खिलाफ खड़ी थी और उनकी आफत कर दी थी। इसी के चलते घर की औरतों ने भी मुँह खोलने शुरू कर दिया था। लेकिन इस बार अंबा अम्माजी के लिए मददगार बनकर आई है। दुसरी ओर अम्माजी का अब दूसरा बड़ा दुश्मन है ,भानुप्रताप है । उसका एक ही मकसद है अम्माजी की तबाही, लेकिन अंबा उसकी राह में खड़ी होकर उसे ऐसा करने से रोकती है। वह सिया की भी मदद करती है और उसके बच्चे के जन्म की परेशानी दूर करती है। इस बार अंबा का किरदार औरत के कर्तव्यों के इर्द-गिर्द घूमता नजर आता है। सीरियल में अपनी वापसी पर शिखा सिंह का कहना है कि मुझे यह किरदार निभाते हुए मजा आया, क्योंकि डाकू बनकर मैंने बहुत कुछ सीखा भी है। अब मैं काले कुर्ते और काले टीके से आगे का भविष्य देखने की कोशिश कर रही हूं।

Thanks for your VISITs

 
How to Configure Numbered Page Navigation After installing, you might want to change these default settings: